नक्सलियों का हमला, चार वाहनों को किया आग के हवाले

0
327

नारायणपुर। छत्तीसगढ़ के नारायणपुर जिले में शनिवार को हथियारों से लैस नक्सलियों ने बड़ी वारदात को अंजाम दिया। उन्होंने जिले एक खदान पर हमला कर दिया। वहां सड़क निर्माण कार्य में लगे कम से कम चार वाहनों को आग लगा दी। एक पुलिस अधिकारी ने यह जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि घटना के बाद वहां काम कर रहे दो कर्मचारी लापता बताए जा रहे हैं।

उत्तराखंड में विधायक दल की बैठक, नए सीएम का नाम होगा तय

नारायणपुर के पुलिस अधीक्षक मोहित गर्ग ने बताया कि

यह घटना छोटे डोंगर थाना क्षेत्र के आमदई खदान क्षेत्र की है। प्रारंभिक जानकारी के अनुसार, नक्सलियों ने सड़क निर्माण कार्य में लगे कम से कम चार वाहनों को आग के हवाले कर दिया और दो ऑपरेटरों के लापता होने की सूचना है।

खदान में उत्पादन शुरू होना बाकी

एसपी मोहित गर्ग ने आगे बताया कि जायसवाल नेको इंडस्ट्रीज लिमिटेड (JNIL) को आवंटित इस खदान में उत्पादन शुरू होना बाकी है और साइट पर प्री-माइनिंग ग्राउंड का काम चल रहा है। घटना की सूचना मिलते ही सुरक्षा बल मौके पर पहुंचे और उनके और विद्रोहियों के बीच मुठभेड़ शुरू हो गई। अधिक जानकारी की प्रतिक्षा है।

डीआरजी से मुठभेड़ में तीन लाख का इनामी नक्सली ढेर

बता दें कि पिछले दिनों बस्तर जिले के एलंगनार के जंगल में डिस्टि्रक्ट रिजर्व गार्ड (डीआरजी) और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ में तीन लाख का इनामी प्लाटून नंबर 26 का डिप्टी कमांडर जोगा मारा गया था। उससे एक 303 राइफल, एक पिस्टल व एक वायरलेस सेट बरामद किया गया है। मुठभेड़ के बाद तलाशी अभियान चलाया गया। एसएसपी दीपक झा ने बताया कि डीआरजी की टुकडि़यां गश्त पर निकली थीं। इस दौरान एलंगनार के पास नक्सलियों ने फाय¨रग शुरू कर दी। पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की। दोनों तरफ से करीब आधे घंटे तक चली गोलीबारी के बाद नक्सली भाग खड़े हुए। मौके की तलाशी लेने पर एक वर्दीधारी नक्सली का शव बरामद किया गया।

भाजपा विधायक के खिलाफ दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज

Leave a Reply