प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की टोक्यो ओलंपिक में जाने वाले खिलाड़ियों से बात 

0
273

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए टोक्यो ओलंपिक में जाने वाले खिलाड़ियों से बात की। इस दौरान उन्होंने प्रत्येक खिलाड़ी से जुड़ी कहानियों को साझा करते और उन्हें शुभकामनाएं देते हुए कहा कि पूरा देश उनका समर्थन कर रहा है। प्रधानमंत्री ने इस दौरान तीरंदाज दीपिका कुमारी मुक्केबाज एमसी मैरी कॉम, बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु, प्रतिभाशाली निशानेबाजों सौरभ चौधरी औ इलावेनिल वलारिवन के अलावा अनुभवी टेबल टेनिस खिलाड़ी ए शरथ कमल समेत अन्य खिलाड़ियों से बात की। इस दौरान उन्होंने कहा कि आपको अपेक्षाओं के बोझ तले दबने की जरूरत नहीं है, आप बस अपना 100% दें। उन्होंने सिंधु के माता-पिता से भी बात की और उनकी बेटी की सफलता की यात्रा के दौरान उनका समर्थन करने के लिए उनकी सराहना की।

कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू कह सकते है कांग्रेस को अलविदा

प्रधानमंत्री मोदी ने तीरंदाज दीपिका कुमारी से बात करते हुए कहा कि

पेरिस में आपकी उपलब्धि के बाद देश आपके बारे में बात कर रहा है। अब आप दुनिया के नंबर 1 हैं। बहुत खास है आपका सफर। दीपिका ने कहा उनका सफर शुरुआत से ही अच्छा रहा है। उन्होंने बताया कि उन्होंने तीरंदाजी बांस के धनुष से शुरू की और फिर धीरे-धीरे आधुनिक धनुष की ओर बढ़ गईं। उन्होंने कहा कि हमसे उम्मीदें हैं, लेकिन सबसे ज्यादा उम्मीद खुद से की जाती है। इसलिए, मैं अपने अभ्यास और जिस तरह से मैं प्रदर्शन करूंगी उसपर ध्यान केंद्रित कर रही हूं।

मैरी कॉम से उनके पसंदीदा मुक्केबाज के बारे में पूछा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस दौरान छह बार की विश्व चैंपियन मुक्केबाज एमसी मैरी कॉम से उनका पसंदीदा मुक्केबाजी पंच और उनका पसंदीदा मुक्केबाज के बार में पूछा। मैरी कॉम ने कहा कि वे मुहम्मद अली से प्रेरणा लेती हैं। उन्होंने उनसे प्रेरित होकर बॉक्सिंग को चुना।

नीरज चोपड़ा से बात की

भाला फेंकने वाले नीरज चोपड़ा से बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा, ‘मुझे बताया गया है कि आप घायल हो गए, लेकिन फिर भी आपने एक नया रिकॉर्ड बनाया। आपको अपेक्षाओं के बोझ तले दबने की जरूरत नहीं है,उम्मीदों का बोझ न उठाएं, बस अपने लक्ष्य पर ध्यान दें। पीएम मोदी को जवाब देते हुए नीरज ने कहा, ‘मैं अपने खेल पर ध्यान केंद्रित कर रहा हूं, मैं जो कुछ भी चाहता हूं, उसमें सरकार मेरी मदद कर रही है। चोट के कारण हमारा करियर सीमित है, मैंने कुछ समय गंवाया, लेकिन मैं पूरी तरह से ओलंपिक पर केंद्रित था। कोविड -19 के कारण, ओलंपिक स्थगित हो, गया लेकिन मैं आयोजन की तैयारी करता रहा।

खेल मंत्रालय ने एथलीटों का समर्थन करने में कोई कसर नहीं छोड़ी: अनुराग ठाकुर

इस दौरान केंद्रीय खेल और युवा मामलों के मंत्री अनुराग ठाकुर, राज्य मंत्री निसिथ प्रमाणिक, कानून मंत्री किरण रिजिजू और भारतीय ओलंपिक संघ के अध्यक्ष नरेंद्र बत्रा भी मौजूद थे। इस दौरान खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा, ‘मैं अपने एथलीटों के साथ कड़ी मेहनत करने के लिए कोचिंग स्टाफ और सपोर्ट स्टाफ सहित यहां मौजूद हर अधिकारी को धन्यवाद देना चाहता हूं। खेल मंत्रालय ने एथलीटों का समर्थन करने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। टॉप्स से लेकर कई अन्य कार्यक्रमों तक, हमने अपने एथलीटों का समर्थन किया है। 22 राज्यों से, 126 एथलीट टोक्यो ओलंपिक में 18 खेलों में 130 करोड़ भारतीयों का प्रतिनिधित्व करेंगे। मुझे लगता है कि आपके (प्रधानमंत्री) के नेतृत्व में हमारे खिलाड़ी टोक्यो ओलंपिक में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने में सक्षम होंगे।’

सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया सितंबर में शुरू करेगा स्पुतनिक वी का उत्पादन

Leave a Reply