शिक्षा मंत्री ने छात्रों के लिए लॉन्च किया निपुण भारत

0
173

NIPUN Bharat 2021: केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने समझ और संख्या के साथ अध्ययन में प्रवीणता के लिए राष्ट्रीय पहल निपुन भारत का आज शुभारंभ किया। कार्यक्रम का शुभारंभ वर्चुअली किया गया। वर्चुअल मोड में निपुण भारत से संबंधित एक शार्ट वीडियो, एंथम और गाइडलाइन्स लॉन्च किए गए। शिक्षा मंत्री के द्वारा इसे दोपहर 12 बजे से 1 बजे तक वर्चुअल मोड में लांच किया गया। इस कार्यक्रम के बारे में शिक्षा मंत्री ने स्वयं जानकारी साझा की थी। इस संबंध में उन्होंने अपने ऑफिशियल ट्वीटर हैंडल के माध्यम से ट्वीट किया था।

उत्‍तराखंड में लागू कोविड कर्फ्यू की अवधि 13 जुलाई तक बढ़ी

नई शिक्षा नीति में सरकार ने आधारभूत साक्षरता और संख्यात्मकता पर विशेष जोर दिया

बता दें कि इस कार्यक्रम में सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के स्कूली शिक्षा विभाग के वरिष्ठ अधिकारी, विभाग के वरिष्ठ अधिकारी और संस्थानों के प्रमुख भी शामिल हैं। निपुण भारत कार्यक्रम को स्कूल एजुकेशन डिपार्टमेंट द्वारा लागू किया जाएगा। डिपार्टमेंट इस कार्यक्रम को पांच चरणों में लागू करेगा। जिनमें राष्ट्र, राज्य, जिला, ब्लॉक और स्कूल शामिल हैं। कार्यक्रम को सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में समग्र शिक्षा अभियान के तहत चलाया जाएगा। बताया गया है कि यह कार्यक्रम नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 (NEP 2020) को लागू करने की दिशा में अपनाए गए प्रयासों में से एक है। नई शिक्षा नीति में सरकार ने आधारभूत साक्षरता और संख्यात्मकता पर विशेष जोर दिया है। इसी के अंतर्गत इस पहल की शुरुआत की जा रही है। यह कार्यक्रम देश में समग्र शिक्षा और साक्षरता मानकों में सुधार करने में सहयोग करेगा।

इस कार्यक्रम का उद्देश्य आधारभूत शिक्षा और संख्यात्मक ज्ञान के लिए एक सर्व सुलभ वातावरण सुनिश्चित करना है। ताकि, हर बच्चा वर्ष 2026-27 तक ग्रेड 3 के अंत तक पढ़ने, लिखने और अंकगणित में वांछित सीखने की क्षमता हासिल कर सके। राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के कार्यान्वयन के लिए किए गए उपायों की श्रृंखला में मूलभूत साक्षरता और संख्यात्मकता शामिल है।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने राज्य में विभिन्न रिक्त पदों पर भर्ती करने के दिए निर्देश

Leave a Reply