मैंने नहीं दिया ‘चौकीदार चोर है’ का नारा: राहुल गांधी

0
3341

भिंड (मध्य प्रदेश): कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को मध्यप्रदेश के भिंड में एक चुनावी रैली के दौरान कहा कि उन्होंने या उनकी पार्टी ने ‘चौकीदार चोर है’ का नारा नहीं दिया है। राहुल गांधी का कहना है कि यह नारा दरअसल देश के युवा और किसानों ने दिया है।

यहां रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर जमकर हमला बोला। राहुल गांधी ने राफेल डील का जिक्र करते हुए दावा किया कि एक लेटर ने यह सुनिश्चित किया कि उद्योगपति अनिल अंबानी को इसका फायदा मिले।

एक रैली के दौरान कुछ युवाओं ने कहा था, ‘चौकीदार चोर है’

राहुल गांधी ने कहा, ‘मीडिया के लोगों ने मुझसे पूछा कि यह ‘चौकीदार चोर है’ का नारा कहां से आया? मैंने उन्हें बताया कि छत्तीसगढ़ में एक रैली के दौरान मैंने कहा कि चौकीदार ने दो करोड़ नौकरियों का वादा किया था और वादा किया था कि हर देशवासी के खाते में 2 करोड़ रुपये जमा किए जाएंगे। इसके बाद 10-15 युवाओं ने कहा ‘चोर है’।

मैंने पहली बार में उनका नारा नहीं सुना था। तो मैंने उनसे पूछा कि उन्होंने क्या कहा? उन्होंने कहा, ‘चोर है’। यह नारा कांग्रेस पार्टी या मैंने नहीं दिया है, बल्कि देश के किसानों, मजदूरों और युवाओं ने यह नारा दिया है।’

राहुल गांधी ने कहा कि वह लोगों से झूठे वादे करने की जबह मरना पसंद करेंगे। राहुल गांधी का यह बयान ऐसे मौके पर आया है, जब उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में इससे जुड़ी एक याचिका के बाद बगैर किसी शर्त के माफी मांगी है। राहुल गांधी ने कहा था कि सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि चौकीदार चोर है।

चुनाव के दो चरणों से ठीक पहले भिंड की रैली में राहुल गांधी ने अपनी पार्टी की ‘न्याय योजना’ का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि यदि उनकी सरकार बनती है तो 5 करोड़ गरीब परिवारों को 72 हजार रुपये सालाना दिए जाएंगे।

‘न्याय योजना से अर्थव्यवस्था को उभार मिलेगा

राहुल ने कहा, ‘न्याय योजना से अर्थव्यवस्था को उभार मिलेगा।’ राहुल गांधी ने कहा कि उनकी सरकार बनी तो वह यह भी सुनिश्चित करेंगे कि बैंक का लोन न चुका पाने किसानों को जेल न जाना पड़े।। उन्होंने यह भी वादा किया कि उनकी सरकार आई तो एक साल के भीतर खाली पड़े 22 लाख सरकारी पदों को भरा जाएगा।

LEAVE A REPLY