साध्वी प्रज्ञा को नोटिस जारी

0
11810

भोपाल: चुनाव आयोग ने 26/11 के मुंबई आतंकी हमले में शहीद हुए पुलिस अधिकारी हेमंत करकरे के बारे में दिए गए विवादित बयान पर भोपाल लोकसभा सीट से बीजेपी की उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया है।

सहायक निर्वाचन अधिकारी से रिपोर्ट मांगी

जिला निर्वाचन अधिकारी एवं भोपाल कलेक्टर सुदाम खाड़े ने शनिवार को बताया, ‘हमने इस बयान पर स्वत: संज्ञान लिया है और इस मामले में सहायक निर्वाचन अधिकारी से रिपोर्ट मांगी है। हम इस कार्यक्रम के आयोजक एवं उस व्यक्ति के खिलाफ नोटिस जारी कर रहे हैं, जिसने यह बयान दिया है और उनसे 24 घंटे में जवाब मांगेंगे। हम सहायक निर्वाचन अधिकारी की रिपोर्ट को निर्वाचन आयोग को भेजेंगे।’

खाड़े ने बताया कि हमने आचार संहिता के दौरान इस कार्यक्रम के आयोजक को कुछ शर्तों पर कार्यक्रम करने की अनुमति दी थी। गुरुवार शाम को भोपाल उत्तर विधानसभा क्षेत्र के बीजेपी कार्यकर्ताओं की बैठक में मुंबई एटीएस के तत्कालीन प्रमुख हेमंत करकरे पर जेल में यातना देने का आरोप लगाते हुए प्रज्ञा ने कहा था कि मैंने करकरे का सर्वनाश होने का श्राप दिया था और इसके सवा माह बाद आतंकवादियों ने उन्हें मार दिया। हालांकि, इस बयान के एक दिन बाद चारों तरफ से आलोचना होने के बाद प्रज्ञा ने अपना बयान वापस ले लिया था और माफी भी मांग ली थी।

मैंने उनको सर्वनाश होने का श्राप दिया था

साध्वी प्रजा ने आतंकी हमले में शहीद हुए मुंबई एटीएस के तत्कालीन प्रमुख हेमंत करकरे पर यातना देने का आरोप लगाते हुए कहा था, ‘मैंने उनको सर्वनाश होने का श्राप दिया था।’ आपको बता दें कि प्रज्ञा 2008 में हुए मालेगांव विस्फोट मामले में आरोपी हैं और फिलहाल जमानत पर चल रही हैं। इस मामले की जांच करकरे के नेतृत्व में हुई थी। 26 नवंबर 2008 को पाकिस्तान से आए आतंकवादियों ने मुंबई के कई स्थानों पर हमले किए थे। उसी दौरान करकरे और मुंबई पुलिस के कुछ अन्य अधिकारी शहीद हो गए थे।

LEAVE A REPLY