Himachal Coronavirus Vaccination Programme: पूरा होने पर PM ने लोगों से किया संवाद 

0
224

शिमला। Himachal Coronavirus Vaccination Programme:  हिमाचल प्रदेश में लक्षित आबादी के कोविड-19 टीकाकरण अभियान पूरा होने पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लोगों से संवाद किया। पीएम मोदी ने हिमाचल के लोगों को बधाई दी। हिमाचल ने अपनी क्षमता और भारत के वैज्ञानिकों पर विश्‍वास किया, इस कारण शत प्रतिशत टीकाकरण की उपलब्धि हासिल की। इस अभियान में हमारी बहनों की विशेष भूमिका रही है। स्वास्थ्य कार्यकर्ता सभी देशवासियों का परिणाम है और उन्होंने भारत के वैज्ञानिकों और अपने उसूलों पर विश्वास किया तो यह मुकाम हासिल किया है। जयराम सरकार ने जिस तरह की व्यवस्था की है और कठिन भौगोलिक स्थिति और टीकाकरण की वेस्टेज के बिना लक्ष्य को हासिल किया है।

Covid Curfew in Uttarakhand: बढ़ सकता है हफ्तेभर आगे

पीएम मोदी ने दवाएं ले जाने के लिए ड्रोन के उपयोग पर भी जोर‍ दिया

हिमाचल प्रदेश में कोविड वैक्‍सीनेशन को लेकर किसी भी अफवाह व अपवाद को टिकने नहीं दिया। हिमाचल इस बात का प्रमाण है कि इसका ग्रामीण समाज किस प्रकार दुनिया के सबसे बड़े और सबसे तेज टीकाकरण को सशक्त कर रहा है। पीएम मोदी ने दवाएं ले जाने के लिए ड्रोन के उपयोग पर भी जोर‍ दिया। पीएम ने ड्रोन तकनीक को हिमाचल के लिए बहुत उपयोगी बताया।

मुख्‍यमंत्री जयराम ठाकुर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्‍वागत किया

Himachal Coronavirus Vaccination Programme:  प्रदेश में लक्षित आबादी के टीकाकरण का लक्ष्य पूरा कर लिया गया है। पीएम मोदी सुबह 11 बजे वर्चुअली कार्यक्रम से जुड़ गए। मुख्‍यमंत्री जयराम ठाकुर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्‍वागत किया। कार्यक्रम में भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जेपी नड्डा व केंद्रीय युवा सेवाएं एवं खेल मंत्री अनुराग ठाकुर भी मौजूद रहे। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा मजबूत नेतृत्व मिला है, जिसका परिणाम है कि वैक्सीन लग रही है। पीएम मोदी का हिमाचल के लिए विशेष लगाव है। कोविड के दौरान हिमाचल प्रदेश ने बेहतर काम करने का प्रयास किया है।

स्‍वास्‍थ्‍य कार्यकर्ता कर्मो देवी ने लगाए 22 हजार टीके

प्रधानमंत्री ने ऊना की स्‍वास्‍थ्‍य कार्यकर्ता कर्मो देवी से कहा आपने 22000 टीके लगाए हैं। कर्मो देवी ने बताया कि अभी तक अकेले 22503 टीके लगा चुकी हैं। पीएम मोदी ने कहा कर्मो देवी आपके नाम में तो कर्म लिखा है। प्रधानमंत्री ने कहा ड्यूटी के दौरान फ्रैक्चर होने के बाद भी काम करते रहे, आपको लगा नहीं कि आराम करना चाहिए। इस पर कर्मो देवी ने कहा परिवार ने बड़ा सहयोग दिया और 14 दिन के लिए रेस्ट के लिए कहा था लेकिन मैंने आठ दिन बाद ड्यूटी ज्वाइन कर ली।

डाक्‍टर राहुल दो साल से डोडराक्‍वार में तैनात हैं। गुजराती में भी प्रधानमंत्री से बात की और उन्हें बताया कि 8 से 10 घंटे तक पैदल चलने के बाद वैक्सीन लगानी पड़ती है, इसमें झूले से भी जाना पड़ता है और जंगल से होकर जाना पड़ता है। खाना साथ लेकर जाना पड़ता है। मुख्यमंत्री का सहयोग रहा और कोई भी दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ा। सबसे देर से टीकाकरण अभियान शुरू हुआ और हमने जल्द पूरा किया।

प्रधानमंत्री ने डाक्‍टर राहुल से पूछा आप कच्‍छ के रेगिस्‍तान से हिमाचल के पहाड़ों में कैसे पहुंच गए व पढ़ाई कहां से हुई है। डाक्‍टर राहुल ने बताया उन्‍होंने रूस से पढ़ाई की है। रेगिस्तान और पहाड़ की ठंड में कैसे समन्वय किया, तो राहुल ने बताया वह यहां विपरीत परिस्थिति में लोगों की सेवा करके खुश हैं। राहुल ने बताया कि हमें सबसे बड़ी दिक्कत इंटरनेट की थी, 75 किलोमीटर दूर से एंट्री करते थे और कई बार तो अगले दिन भी एंट्री ऑनलाइन की जाती थी।
वेस्‍टेज की रोकथाम जरूरी

पीएम मोदी ने वैक्‍सीन की वेस्टेज को कम करने के संबंध में पूछा कि कैसी रणनीति बनाई। प्रधानमंत्री ने कहा कि 11 डोज़ अपनाई जाए तो 10 फीसद खर्चा कम किया जा सकता है। प्रधानमंत्री ने राहुल और उनकी टीम को पूरी बधाई दी।

84 वर्षीय निर्मला देवी ने दिया मोदी को आशीर्वाद

हमीरपुर की 84 वर्षीय बुजुर्ग ने पीएम मोदी से बात की। प्रधानमंत्री ने उनका स्‍वास्‍थ्‍य हाल पूछा। निर्मला देवी ने किसी भी तरह की गलती के लिए माफी मांगी और वैक्सीन लगाने के लिए प्रोत्साहित किया। पीएम मोदी ने कहा मां जी हमें आपका आशीर्वाद चाहिए। बुजुर्ग महिला ने कहा आपकी वजह से हिमाचल में वैक्‍सीन की कमी नहीं हुई।

मलाणा की निर्मला बोलीं, खड़ी चढ़ाई चढ़कर किया कार्य

मलाणा की हेल्‍थ वर्कर निरमा देवी ने बताया जमदग्नि ऋषि से हमने आदेश लिए तब कोविड टीकाकरण किया। यहां पर कोई भी कार्य बाहर से नहीं होता है देवी देवताओं से होता है। खड़ी चढ़ाई का पैदल सफर करके मलाणा जाना पड़ता है प्रधानमंत्री ने कुल्लू जिला प्रशासन और सभी को बहुत बधाई दी, जिन्होंने यह मुकाम हासिल किया।

वर्चुअल कार्यक्रम में शिमला पीटरहाफ से मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर सहित जिलों से अधिकारी भी मौजूद हैं। प्रधानमंत्री मोदी शिमला के डोडरा क्वार में कार्यरत डाक्‍टर राहुल, ऊना से स्वास्थ्य कार्यकर्ता कर्मो देवी, कुल्लू के मलाणा से आशा वर्कर निरमा देवी, मंडी से वैक्सीन लाभार्थी दयाल सिंह, हमीरपुर से वैक्सीन लाभार्थी निर्मला देवी व लाहुल स्पीति के शाशुर गोंपा प्रमुख से संवाद किया।

प्रधानमंत्री मोदी ने कार्यक्रम से पहले रात को एक ट्वीट कर हिमाचलियों को शाबाशी दी

उन्‍होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश ने सभी लक्षित लोगों को वैक्‍सीन देकर एक मानदंड स्‍थापित किया है।

Himachal Coronavirus Vaccination Programme: कोरोना संक्रमण के मामले में नियंत्रण में

हिमाचल प्रदेश देश का पहला राज्‍य है, जिसने लक्षित आबादी के टीकाकरण के लक्ष्‍य को पा लिया है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामले में नियंत्रण में हैं। कुछ समय पहलेे तक यहां संक्रमण के मामले बढ़ने लगे थे, लेकिन सरकार व प्रशासन के प्रयासाें से एक बार फ‍िर मामलों की रफ्तार धीमी पड़ गई है। अभी कोरोना संक्रमण के दो हजार से कम एक्टिव केस हैं।

हिमाचल प्रदेश में 18 वर्ष से अधिक उम्र के 55 लाख 23 हजार लोगों को वैक्‍सीन लगाने का लक्ष्‍य तय था। बाद में सांख्‍य‍िकी विभाग ने 53 लाख 77 हजार आबादी बताई। लेकिन प्रदेश में अब 55 लाख 43 हजार 474 लोगों को कोविड-19 वैक्‍सीन की पहली डोज दी जा चुकी है। इसके अलावा 18 लाख से ज्‍यादा लोगों को दोनों डोज लग चुकी हैं। अब तक लगी वैक्‍सीन में प्रवासी मजदूर व फ्लोट‍िंग पापुलेशन भी शामिल है।

ISI General Faiz Hamid: पहुंचे काबुल

Leave a Reply