Baba Ka Dhaba: पढ़िये- कैसे एक वायरल वीडियो ने लौटा दी ‘बाबा’ की मुस्कान,

0
391

नई दिल्ली। फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम व वाट्सएप जैसे प्लेटफॉर्म अक्सर विवाद खड़ा करने के लिए बदनाम माने जाते हैं, लेकिन इस सोशल मीडिया ने राजधानी की मालवीय नगर मेन मार्केट में बाबा का ढाबा चलाने वाले एक बुजुर्ग दंपती की उम्मीदों को नया जीवन दिया है। एक दिन पहले उनकी आंखों से बरसते आंसू की जगह अब खुशियों ने ले ली है। लॉकडाउन के दौरान ढाबा बंद रहा और अनलॉक में खुला तो ग्राहक नदारद हो गए। हालत यह हो गई कि ढाबा फिर शुरू करने के लिए पर्याप्त राशन भी नहीं था, लेकिन एक युवक फरिश्ता की तरह आया।

ब्रिटेन के तीन विश्वविद्यालयों में कोरोना का कहर

वीडियो में रोते हुए नजर आए थे कांता प्रसाद

यू-ट्यूबर गौरव वासन ने बुजुर्ग कांता प्रसाद और उनकी पत्नी बादामी देवी की बदहाली का वीडियो बनाकर बुधवार को फेसबुक, ट्विटर व इंस्टाग्राम पर पोस्ट कर दिया। देखते ही देखते उनकी पीड़ा देश-दुनिया तक पहुंच गई। गुरुवार को हैशटैग बाबा का ढाबा ट्विटर पर ट्रेंड करने लगा। वीडियो में बुजुर्ग रोते हुए कह रहे हैं कि उनके ढाबे पर कोई ग्राहक नहीं आ रहा है।

मदद के लिए आगे आया बॉलीवुड

इस पर बॉलीवुड व खेल जगत की हस्तियों ने लोगों से अपील की कि ‘बाबा के ढाबे पर खाना खाएं, ताकि बुजुर्ग की मदद हो सके’। इसके बाद बृहस्पतिवार सुबह नौ बजे से ही ढाबे पर ग्राहकों की कतार लग गई। कांता प्रसाद की मदद करने के लिए बॉलीवुड से रवीना टंडन, सुनील शेट्टी, स्वरा भास्कर, सोनम कपूर, क्रिकेटर रविचंद्रन अश्विन समेत तमाम हस्तियों ने अपील करते हुए ट्वीट किया। कुछ ने आर्थिक मदद भी की। भाजपा के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता और आम आदमी पार्टी के विधायक सोमनाथ भारती भी मदद के लिए पहुंचे। लोग यहां खाना खाते हुए अपने वीडियो व सेल्फी भी पोस्ट कर रहे थे।

आजमगढ़ के रहने वाले हैं बाबा

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले के पिपरी गांव के रहने वाले कांता प्रसाद और उनकी पत्नी बादामी देवी की उम्र 80 वर्ष से अधिक है। वह अपने दो बेटों व एक बेटी के साथ शेख सराय के पास रहते हैं। 1990 से ही मालवीय नगर में अपनी छोटी सी दुकान लगा रहे हैं। लॉकडाउन से पहले लोग यहां शौक से खाना खाने आते थे। लेकिन अनलॉक के बाद ग्राहक गायब हो गए।

ढाई लाख से ज्यादा की मिली मदद

गौरव वासन भी बृहस्पतिवार सुबह ढाबे पर पहुंचे। उन्होंने बताया कि करीब ढाई लाख रुपये की मदद बाबा को मिल चुकी है। तमाम लोगों ने खाना खाने के बाद उन्हें एकमुश्त एक सप्ताह का व एक माह का एडवांस भुगतान कर दिया।

AIIMS NORCET Result 2020: सीबीटी परीक्षा परिणाम घोषित, इस लिंक देखें अपने नतीजे और रैंक

LEAVE A REPLY