Onam Festival: पीएम मोदी ने दी ओणम पर्व की शुभकामनाएं

नई दिल्ली। Onam Festival:  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को ओणम के अवसर पर लोगों को शुभकामनाएं दीं और किसानों के महत्वता पर जोर दिया। पीएम मोदी ने कहा कि यह पर्व प्रकृति के महत्व तथा हमारे मेहनती किसानों की अहमियत को रेखांकित करता है।

Trivendra Singh Rawat meets PM: राज्य के विषयों को लेकर 45 मिनट तक हुई चर्चा

पीएम मोदी ने एक ट्वीट में कहा ‘सभी को ओणम की बधाई, विशेष रूप से केरल के लोगों और दुनिया भर में फैले मलयाली समुदाय को। यह त्योहार प्रकृति की महत्वपूर्ण भूमिका और हमारे मेहनती किसानों के महत्व की पुष्टि करता है। ओणम हमारे समाज में सद्भाव की भावना को भी आगे बढ़ाए।’ उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने भी ओणम के अवसर पर बुधवार को देशवासियों को बधाई दी और सभी के जीवन में शांति, समृद्धि और सुख की कामना की।

उपराष्ट्रपति ने एक संदेश में कहा, ‘ओणम के शुभ अवसर पर देशवासियों को हार्दिक शभकामनाएं और बधाई। सम्राट महाबली की स्मृति में मनाया जाने वाला यह पर्व ईमानदारी, करुणा तथा त्याग जैसे उदात्त गुणों का प्रतीक है।’ उन्होंने कहा, ‘मेरी कामना है कि ओणम का पर्व सभी के जीवन में शांति, समृद्धि और सुख लाए।’

बता दें कि ओणम का 10 दिवसीय त्योहार केरल में 30 अगस्त से 8 सितंबर तक मनाया गया। ओणम मुख्य रूप से मलयाली लोगों द्वारा मनाया जाने वाला एक फसल उत्सव है। तारीख पंचांग पर आधारित है जो मलयालम कैलेंडर के चिंगम महीने में 22 वें नक्षत्र थिरुवोनम पर पड़ता है, जो ग्रेगोरियन कैलेंडर में अगस्त-सितंबर के बीच आता है। मलयालम कैलेंडर के अनुसार चिंगम पहला महीना है।

10 दिनों तक चलने वाले समारोह मलयालम नव वर्ष को चिह्नित करते हैं और थिरुवोनम के साथ समाप्त होते हैं।

त्रिपुनिथुरा में 30 अगस्त को एक भव्य परेड का आयोजन हुआ जिसमें हाथी, रंगीन झांकियां, कथकली और मोहिनीअट्टम जैसे लोक कला प्रदर्शन, पांडमेलम और पंचवयम जैसे पर्क्यूशन बैंड, पौराणिक कथाओं और इतिहास के दृश्यों को दर्शाया गया था।

Supreme Court on CAA: सीएए पर सुप्रीम कोर्ट में 12 सितंबर को होगी सुनवाई

Leave a Reply