Prashant Kishor on Congress: प्रशांत किशोर ने कांग्रेस को दिखाया आईना

नई दिल्‍ली। Prashant Kishor on Congress: प्रशांत किशोर ने एकबार फ‍िर कांग्रेस को आईना दिखाया है। प्रशांत किशोर ने कहा है कि कांग्रेस के चिंतन शिविर में कुछ भी सार्थक नहीं हुआ है। चिंतन शिविर  के कारण कांग्रेस नेतृत्व को मौजूदा स्थिति को बनाए रखने और मुद्दों को टालने का समय मिल गया है। पोल एनालिस्‍ट प्रशांत किशोर (Prashant Kishor on Congress) ने हाल ही में संपन्न कांग्रेस के चिंतन शिविर पर अपने विचार रखते हुए कहा कि यह बैठक कुछ भी सार्थक हासिल करने में विफल रही।

Dev Sanskriti University: के कार्यक्रम में शिरकत करने हरिद्वार पहुंचे CM

किशोर ने कांग्रेस की आसन्‍न चुनावी हार की भी भविष्यवाणी की

साथ ही किशोर ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में होने वाले चुनाव में कांग्रेस की आसन्‍न चुनावी हार की भी भविष्यवाणी की। दोनों ही राज्‍यों में इस साल के अंत में चुनाव होने वाले हैं। प्रशांत किशोर ने शुक्रवार को ट्वीट कर कहा- मुझसे बार बार उदयपुर चिंतन शिविर  के चुनाव नतीजों पर अपनी प्रतिक्रिया रखने के लिए कहा गया… कम से कम गुजरात और हिमाचल प्रदेश में आसन्न चुनावी हार तक!

सनद रहे कि यूपी, पंजाब, उत्‍तराखंड, असम और गोवा में हुए विधानसभा चुनावों में कांग्रेस को करारी हार का सामना करना पड़ा था। इन पांच राज्यों में हालिया चुनावी हार के बाद कांग्रेस प्रशांत किशोर के साथ बातचीत कर रही थी। हालांकि बाद में प्रशांत किशोर ने पिछले महीने कांग्रेस पार्टी में शामिल होने से इनकार कर दिया था। अब जब हिमाचल प्रदेश और गुजरात में साल के अंत में चुनाव होने जा रहे हैं प्रशांत किशोर के ताजा ट्वीट ने सियासी तपिश बढ़ा दी है।

तीन दिवसीय विचार मंथन सत्र ‘नव संकल्प चिंतन शिविर’ का आयोजन

उल्‍लेखनीय है कि कांग्रेस की ओर से उदयपुर में तीन दिवसीय विचार मंथन सत्र ‘नव संकल्प चिंतन शिविर’ का आयोजन किया गया था। इसमें साल 2024 की चुनावी चुनौतियों की रणनीति पर चर्चा करने के लिए राहुल गांधी और पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने भाग लिया था। इस बैठक में कांग्रेस की ओर से संगठन में सुधार को लेकर कई एलान किए गए थे। बैठक के समापन सत्र को संबोधित करते हुए सोनिया गांधी ने दो अक्‍टूबर से भारत जोड़ो पदयात्रा शुरू करने का एलान किया था।

Gyanvapi Masjid Case: में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू

Leave a Reply