Name change in UP : UP में जगहों का नाम बदलने का सिलसिला जारी

32

गोरखपुर। Name change in UP :  योगी आदित्यनाथ के उत्तर प्रदेश की सत्ता संभालने के बाद से ही जगहों के नाम बदलने का सिलसिला जारी है। यूपी में कई जगहों के नाम बदले जा चुके हैं। इसी क्रम में यूपी के दो और जगहों के नाम बदले गए हैं। लंबे समय से यूपी सरकार द्वारा भेजे गए प्रस्ताव को केंद्रीय गृह मंत्रालय की हरी झंडी मिल गई है। गोरखपुर के मुंडेरा बाजार का नाम बदलकर चौरी चौरा और देवरिया के तेलिया अफगान का नाम बदलकर तेलिया शुक्ल किया गया है। आइए जानते हैं कि योगी सरकार में किन बड़े शहरों के नाम बदले गए हैं।

Covid Cases in January : मध्य जनवरी तक बढ़ सकते हैं देश में कोरोना के नए केस

यूपी सरकार में बदले गए इन बड़े शहरों के नाम (Name change in UP)

इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज किया गया।
फैजाबाद का नाम बदलकर अयोध्या किया गया।
इन रेलवे स्टेशनों के बदले गए नाम
मुगलसराय रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन किया गया।
झांसी रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर वीरांगना लक्ष्मीबाई रेलवे स्टेशन रखा गया।
सबसे पहले मुगलसराय जंक्शन का बदला था नाम
सबसे पहले मुगलसराय जंक्शन का नाम बदल कर पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन कर दिया गया था। इसके बाद मुगलसराय तहसील का नाम भी पंडित दीन दयाल उपाध्याय कर दिया गया था।

लखनऊ के इन जगहों के बदले गए नाम

कुछ महीने पहले प्रदेश की राजधानी लखनऊ के कई जगहों के नाम बदले गए थे। इनमें बर्लिगटन चौराहा का नाम अशोक सिंघल कर दिया गया। सर्वोदयनगर में द्वार का नाम नामकरण विनायक दामोदर सावरकर द्वार कर दिया गया। वहीं सिकंदराबाग चौराहे का नामकरण विरांगना उदादेवी हो गया तो विरामखंड राम भवन चौराहा, अमर शहीद मेजर कमल कालिया चौराहा किया गया।

चौरीचौरा प्रतिशोध के 100वें वर्ष में भेजा गया था नाम बदलने का प्रस्ताव

चौरी चौरा प्रतिशोध के 100वें वर्ष में तथ्यों को सही करने के क्रम में जिला प्रशासन ने मुंडेरा बाजार नगर पंचायत का नाम चौरी चौरा के नाम पर करने का प्रस्ताव भेजा था। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने शासन के प्रस्ताव पर निर्णय लेते हुए नाम परिवर्तन को लेकर अनापत्ति प्रमाण पत्र (एनओसी) जारी कर दिया है।

PM Modi Mother Health : यूएन अस्पताल में PM मोदी ने मां का हालचाल लिया

Leave a Reply