Defense Minister: ने लखनऊ को दी 1710 करोड़ की सौगात

0
169

लखनऊ। Defense Minister:  रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने चौक में 1710 करोड़ की 180 योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया। राजनाथ सिंह ने कहा कि मैं भाषण देने के लिये नहीं आया हु। मैं बस लखनऊ पर बात करना चाहता हूं। देश का नबर वन कैसे बने लखनऊ बस यही बात करना चाहता हूं। अगर योगी नहीं होते तो इतना सब एक साथ संभव नही था। दो दिन पहले तमिलनाडु में योगी के कामकाज की तारीफ सुनकर दिल गदगद हो गया।

Supertech Emerald Court Project: के दो टावर गिराने का आदेश

हिंदुस्तान में 90 फीसद परिवार केंद्र की योजनाओं का लाभ ले रहे हैं: राजनाथ सिंह

Defense Minister:  ने कहा कि आज हिंदुस्तान में 90 फीसद परिवार केंद्र की योजनाओं का लाभ ले रहे हैं। यातयात की दृष्टि से सबसे बेहतर हो यही हमारा सपना है। लोगो के आवागमन में किसी तरह की दिक्कत नहीं हो। तेजी से आबादी और वाहन बढ़े है। इसके लिए सडकों और पुलों का जाल फैलाया जा रहा है। 2022 अक्टूबर तक पूरी रिंग रोड बनकर तैयार हो जाये। इसमें थोड़ी सी देरी हो गयी है। बस योगी जी अपने तेवर में हो जाये तो यह सब संभव है। डिफेंस कॉरिडोर के लिए 250 एकड़ जमीन की व्यवस्था एक दिन में योगी जी ने एक रुपये लीज पर दे दिया। पीएनजी प्रत्येक घर मे पहुचने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। पीएनजी प्रत्येक घर मे पहुचने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

 Defense Minister:  जी के नेतृत्व में 1700 करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास और लोककर्ण

वहीं मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि रक्षा मंत्री जी के नेतृत्व में 1700 करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास और लोककर्ण हुआ है। इसमें से शिलान्यास 396 करोड़ का हुआ। बाकी 1313 करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण किया गया है। यह बदलता लखनऊ है। मुख्‍यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश आज दुनिया की छठी अर्थव्यवस्था है। कभी अराजकता और गुंडागर्दी का शिकार रहा, हर तीसरे दिन दंगा होता था। 2012 से 2017 के बीच सरकारी संपत्ति लूटी जाती थी। 2016 -17 में 14वे स्थान पर था आज हम तीसरे स्थान पर है। कोरोना काल मे 5 हजार करोड़ की सैमसंग यूनिट स्थापित की। कोरोना काल मे 66 हजार करोड़ का निवेश हुआ, देश के नबर दो अर्थव्यवस्था बन गया है उत्तर प्रदेश।

विकास की योजनाएं जिनमें 158 लोक निर्माण की और सेतु विभाग की दो योजनाएं

कार्यक्रम में उप मुख्‍यमंत्री केशव मौर्य ने कहा कि मुख्यमंत्री के नेतृत्व में प्रदेश विकास के पथ पर दौड़ रहा है। इतनी बड़ी संख्या में विकास की योजनाएं जिनमें 158 लोक निर्माण की और सेतु विभाग की दो योजनाएं है। यह सब लखनऊ के लिए है। सभी 75 जनपदों में विकास काम इसी तरह होगा। पहले जातीय मुद्दा होता था। अब विकास की बात होती है। यह सब प्रधानमंत्री के विजन के कारण हुआ। शिलान्यास भी हम करेंगे लोकार्पण भी हम ही करेंगे। नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने कहा मूर्तियां लगाने वाले विकास को क्या जाने। केवल भाजपा ही विकास कर सकती है। उप मुख्‍यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने कहा कि राजनाथ जी और हम सब मिलकर अटल जी के लखनऊ को आगे बढ़ते देख रहे हैं। अटल जी ने जो विकास का सपना देखा था आज वह पूरा हो रहा है।

Defense Minister: एक दिवसीय दौरे पर

बता दें कि मंत्री राजनाथ सिंह ( Defense Minister) मंगलवार को एक दिन के दौरे पर अपने संसदीय क्षेत्र लखनऊ में रहेंगे। राजनाथ सिंह इस दौरान लखनऊ को 1710 करोड़ की लागत से तोहफे देने के साथ पूर्व सीएम स्वर्गीय कल्याण सिंह की श्रद्धांजलि सभा में भी सम्मिलित होंगे। लखनऊ के सांसद एवं केन्द्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह एक दिवसीय दौरे पर मंगलवार सेना के विमान से चौधरी चरण सिंह इंटरनेशनल एयरपोर्ट, अमौसी पहुंचें।

1710 करोड़ रुपये की 180 योजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण

उसके बाद उन्‍होंने वहां से सड़क मार्ग से चौक के लिए प्रस्थान किया। चौक में 12:30 बजे राजनाथ सिंह के साथ सीएम योगी आदित्यनाथ लखनऊ के विकास के लिए 1710 करोड़ रुपये की 180 योजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण करेंगे। इनमें आउटर रिंग का पार्ट किसान पथ का लोकार्पण है। चरक फ्लाईओवर को भी आम जनमानस के लिए शुरू किया जाएगा। इसके साथ लखनऊ विकास प्राधिकरण, नगर निगम, स्वास्थ्य की योजनाओं का लोकार्पण होगा।

करीब ढाई किलोमटर लम्बे फ्लाईओवर को भी शुरू

ज्योतिबा फूले मल्टीलेव पाॄकग स्थल पर होने वाले इस कार्यक्रम में राजनाथ सिंह व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनथ के साथ उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व डॉ. दिनेश शर्मा के साथ वित्त-संसदीय कार्य मंत्री सुरेश कुमार खन्ना, विधि एवं न्याय मंत्री ब्रजेश पाठक तथा नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन भी रहेंगे। इस दौरान चौक में बने करीब ढाई किलोमटर लम्बे फ्लाईओवर को भी शुरू कर दिया जाएगा। करीब 142 करोड़ की लागत से बने से इस फ्लाईओवर के बनने से पुराने लखनऊ के लाखों लोगों को राहत मिलेगी। जिन योजनाओं की सौगात दी जा रही है उनमें नगर निगम, अमृत योजना, स्मार्ट सिटी योजना की 352 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण होगा। इसी तरह पांच सौ करोड़ से अधिक परियोजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण होगा। तीन सीएचसी, बच्चों का अस्पताल सहित बीस करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण करेंगे। वहीं 280 करोड़ की लागत से बना किसान पथ जो सुलतानपुर पुर रोड से गोसाईगंज तक बना है, यह भाग आउटर रिंग रोड का है ,जो करीब 105 किमी. का है।

लविप्रा की कई योजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण

सीएम लखनऊ विकास प्राधिकरण की एक दर्जन परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास करेंगे। इनमें गोमती नगर पर पिपराघाट पुल से शहीद पथ तक बायें, तटबंध पर चार लेन सड़क का निर्माण करीब 82.99 करोड़, समतामूलक चौराहे से अंबेडकर स्मारक होते हुए जनेश्वर मिश्र पार्क को जोडऩे के लिए संपर्क मार्ग एवं उत्तर रेलवे लाइन के नीचे अद्योगामी सेतु का निर्माण करीब 60.32 करोड़, सीजी सिटी सुलतानपुर परोड योजना में निॢमत 19 एमएलडी एसटीपी परियोजना पर लागत करीब 67.46 करोड़ और यह बना है 4.76 एकड़, सीजी सिटी योजना में ही 352 ईडब्ल्यूएस तथा 512 एलआइजी भवनघंर लविप्रा का खर्च हुआ 128.59 करोड़, देवपुर पारा आवास योजना में 19 मंजिले एसएमआइजी तथा एमआइजी भवन पर खर्च हुए 73 करोड़, पुराने लखनऊ में हुसैनाबाद क्षेत्र में समुचित विकास के लिए घंटाघर पार्क के तालाब में म्यूजिकल फांउटेन का निर्माण पर खर्च हुए 6.20 करोड़, पुराने लखनऊ हुसैनाबाद क्षेत्र के विकास कार्यों में ऑडियो वीडियो साउंड शो आउटडोर प्रोजेक्टर सिस्टम पर खर्च हुए 7.20 करोड़, लखनऊ की विभिन्न झीलों, जैसे ऐशबाग योजना की यमुना झील, शारदा नगर योजना में रक्षा खंड उदयन की दो झील, काला पहाड़ झील को पुनर्जीवित करने पर 12.558 करोड़, बसंत कुंज योजना में राष्ट्रीय प्रेरणा स्थल व पीएम आवास योजना की चाभी भी दी जाएगी।

Indian athlete Vinod Kumar: के पदक पर हुआ फैसला

Leave a Reply