नवनियुक्त ऊर्जा मंत्री ने ऊर्जा के तीनों निगमों के अधिकारियों के साथ की बैठक 

0
275

देहरादून। चुनावी वर्ष में धामी सरकार बिजली उपभोक्ताओं को राहत देने जा रही है। इसके तहत सौ यूनिट से कम बिजली खर्च करने वाले उपभोक्ताओं को बिजली मुफ्त मिलेगी। 101 से 200 यूनिट तक की खपत पर 50 फीसद बिल लिया जाएगा। सरकार की इस पहल से करीब साढ़े सात लाख उपभोक्ताओं को लाभ मिलेगा। नवनियुक्त ऊर्जा मंत्री डा हरक सिंह रावत ने बुधवार को ऊर्जा के तीनों निगमों के अधिकारियों के साथ बैठक में इस सिलसिले में प्रस्ताव तैयार कर कैबिनेट के समक्ष रखने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शौर्य स्थल पर शहीदों को दी श्रद्धांजलि

बिजली बिलों के भुगतान में देरी पर विलंब शुल्क और सरचार्ज की वसूली से राहत की अवधि 31 अक्टूबर तक बढ़ाने का निर्णय

ऊर्जा भवन में हुई बैठक में विभागीय मंत्री डा रावत ने ऊर्जा के तीनों निगमों के अधिकारियों से विद्युत उत्पादन, खपत समेत अन्य बिंदुओं पर विस्तार से जानकारी ली। नवनियुक्त ऊर्जा मंत्री के अनुसार उत्‍तराखंड में करीब 23.50 लाख घरेलू विद्युत उपभोक्ता हैं, जबकि तीन लाख उपभोक्ताओं के पास व्यवसायिक कनेक्शन हैं। करीब साढ़े सात लाख उपभोक्ता ऐसे हैं, जो अमूमन 100 यूनिट से कम बिजली खर्च करते हैं। अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि इन परिवारों को मुफ्त बिजली देने के मद्देनजर मानक तय करने के साथ समग्र प्रस्ताव अविलंब तैयार किया जाए। बिजली बिलों के भुगतान में देरी पर विलंब शुल्क और सरचार्ज की वसूली से राहत की अवधि 31 अक्टूबर तक बढ़ाने का निर्णय किया गया है। अभी यह राहत सिर्फ 15 मई तक ही दी गई थी।

डा रावत ने बताया कि वर्तमान परिस्थितियों के हिसाब से ऊर्जा निगमों के ढांचे के पुनर्गठन से संबंधित प्रस्ताव तैयार करने को भी कहा गया है। ढांचे का पुनर्गठन होने पर ऊर्जा उत्पादन में बढ़ोतरी के साथ ही अन्य समस्याओं का भी निदान हो सकेगा।

बजाए घरेलू टैरिफ में शामिल करने के संबंध में भी प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश

उन्होंने जानकारी दी कि बदली परिस्थिति में प्रदेश में कृषि, बागवानी और डेयरी से जुड़े उद्यम रोजगार के लिहाज से एक बड़ी उम्मीद बनकर उभरे हैं। इन उद्यमों को व्यवसायिक की बजाए घरेलू टैरिफ में शामिल करने के संबंध में भी प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश अधिकारियों को दिए गए हैं। यह प्रस्ताव भी जल्द कैबिनेट में लाया जाएगा। देहरादून, हल्द्वानी और रुद्रपुर में बिजली की ओवरहैड लाइन को भूमिगत करने काम तेजी से पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं। साथ ही लखवाड़ जलविद्युत परियोजना पर शासन स्तर पर लंबित कार्यवाही शीघ्र पूरी कर निर्माण कार्य शुरू करने के निर्देश विभागीय मंत्री ने दिए हैं। बैठक में ऊर्जा सचिव राधिका झा, ऊर्जा निगम व पारेषण निगम के प्रबंध निदेशक नीरज खैरवाल व जलविद्युत निगम के प्रबंध निदेशक संदीप सिंघल समेत तीनों निगमों के निदेशक व अन्य अधिकारी मौजूद थे।

शाह से मिलने जल्द जाएंगे दिल्ली

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मिलने मंगलवार को दिल्ली गए उत्‍तराखंड हरक सिंह रावत की उनसे मुलाकात नहीं हो पाई। बुधवार को देहरादून लौटने पर रावत ने बताया कि केंद्रीय मंत्रिमंडल के विस्तार को देखते हुए केंद्रीय मंत्री शाह से मुलकात नहीं हो पाई। उन्होंने बताया कि वह जल्द ही दिल्ली जाकर शाह से मिलेंगे और राज्य के विकास से जुड़ी विभिन्न योजनाओं के बारे में विचार-विमर्श करेंगे।

भारतीय रिजर्व बैंक ने 14 बैंकों पर लगाया जुर्माना

Leave a Reply