27th anniversary of Mussoorie shooting: पर शहीदों को किया याद

0
162

मसूरी। 27th anniversary of Mussoorie shooting:  मसूरी गोलीकांड की 27वीं वर्षगांठ पर आज गुरुवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और केंद्रीय रक्षा राज्यमंत्री अजय भट्ट समेत कई नेताओं ने शहीदों को श्रद्धांजलि दी। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मसूरी गोलीकांड के शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उनका भावपूर्ण स्मरण किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखंड राज्य निर्माण में अपने प्राणों की आहुति देने वाले राज्य आंदोलनकारियों के बलिदान को प्रदेश हमेशा याद रखेगा। राज्य सरकार शहीदों के सपनों के अनुरूप समृद्ध और प्रगतिशील उत्तराखंड बनाने के लिए संकल्पबद्ध है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य आंदोलनकारियों के सपनों को पूरा करने के लिए राज्य सरकार संकल्पबद्ध है। कहा कि उत्तराखंड राज्य निर्माण के लिए मसूरी गोलीकांड में बेलमती चौहान, हंसा धनई, बलवीर सिंह नेगी, धनपत सिंह, मदन मोहन ममगाईं, राय सिंह बंगारी ने अपने प्राणों की आहुति दे दी। आंदोलनकारियों के बलिदान के कारण ही हमें उत्तराखंड नया राज्य के रूप में मिला।

public meeting program: 4 सितम्बर को होगा

आंदोलनकारियों ने जिस उद्देश्य से राज्‍य की मांग की, उसे आगे बढ़ाया जाएगा

27th anniversary of Mussoorie shooting: मुख्‍यमंत्री पुष्‍कर सिंह धामी ने कहा कि राज्य आंदोलनकारियों ने जिस उद्देश्य से अलग राज्य की मांग की थी। उसके अनुरूप ही राज्य को आगे बढ़ाया जाएगा। जन समस्याओं का समाधान तेजी से हो, इसके लिए हर स्तर पर अधिकारियों की जिम्मेदारी तय की गई है। कार्यों में तेजी लाने के लिए प्रक्रियाओं को आसान बनाया जा रहा है। जन सुविधा के लिए सरकार का ध्यान प्रक्रियाओं के सरलीकरण, समाधान और निस्तारण पर अधिकारियों को विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए गए हैं।

31 दिसंबर 2021 तक उन राज्य आंदोलनकारियों के चिन्हीकरण की व्यवस्था

मुख्यमंत्री ने कहा कि जो राज्य आंदोलनकारी चिन्हीकरण से छूट गए हैं, 31 दिसंबर 2021 तक उन राज्य आंदोलनकारियों के चिन्हीकरण की व्यवस्था की जाएगी। चिन्हित राज्य आंदोलनकारी जिन्हें 3100 रुपये प्रतिमाह पेंशन की गई है, उनकी मृत्यु के पश्चात उनके आश्रितों, पति/पत्नी को भी 3100 रुपये प्रतिमाह पेंशन दी जाएगी। विभिन्न विभागों में कार्यरत राज्य आन्दोलनकारियों को सेवा से हटाये जाने के उच्च न्यायालय के आदेश पर राज्य सरकार पुनर्विचार याचिका दाखिल कर ठोस पैरवी करेगी। उद्योगों में नौकरी के लिए भी राज्य आंदोलनकारियों को प्राथमिकता के लिए समुचित व्यवस्था की जायेगी। राजकीय अस्पतालों की तरह मेडिकल कॉलेजों में भी राज्य आंदोलनकारियों का निःशुल्क ईलाज किया जायेगा।

शि‍फनकोट के लोग के पुनर्वास की उचित व्यवस्था की जाएगी

मुख्यमंत्री ने कहा कि मसूरी के शिफनकोट के लोग की पुनर्वास की उचित व्यवस्था की जाएगी। मसूरी रोपवे का कार्य शूरू होने से पूर्व शिफनकोट के लोग के पुनर्वास की समस्या का समाधान किया जाएगा। मसूरी में वन टाइम सेटलमेंट लागू किया जाएगा। गढ़वाल सभा के भवन को यदि अन्यत्र स्थान पर शिफ्ट करना पड़ा तो, इसके लिए दूसरी जगह पर व्यवस्था की जाएगी।

राज्‍य आंदोलनकारियों के बलिदान की वजह से ही उत्‍तराखंड राज्य का निर्माण

केंद्रीय पर्यटन एवं रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट ने कहा कि शहीद राज्‍य आंदोलनकारियों के बलिदान की वजह से ही उत्‍तराखंड राज्य का निर्माण हुआ है। राज्य बना, यह प्रदेशवासियों के त्याग का ही परिणाम है। शहीद राज्य आन्दोलनकारियों के सपनों के अनुरूप जो कार्य करना होगा, वह सरकार करेगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के नेतृत्व में प्रदेश तेजी से प्रगति के पथ पर अग्रसर है। कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने कहा कि उत्तराखंड राज्य आंदोलन में मसूरी गोलीकांड एक महत्वपूर्ण घटना है। इसमें हमारे अनेक आंदोलनकारी राज्य निर्माण की मांग को लेकर शहीद हुए। शिफनकोट के लोगों के पुनर्वास की व्यवस्था के लिए प्रयास हो रहे हैं, जल्द ही इसका समाधान निकाला जाएगा।

इस मौके पर पूर्व विधायक जोत सिंह गुनसोला, मसूरी नगर पालिका परिषद् के अध्यक्ष अनुज गुप्ता, मसूरी नगर पालिका परिषद् के पूर्व अध्यक्ष मन्नू मल्‍ल, बलजीत सिंह सोनी आदि मौजूद रहे।

Sidharth Shukla Passed Away: हार्ट अटैक से हुई मौत

Leave a Reply