Dehradun New District Magistrate डा आर राजेश कुमार ने ग्रहण किया पदभार

0
293

देहरादून। Dehradun New District Magistrate आज मंगलवार को देहरादून के नए जिलाधिकारी डा आर राजेश कुमार ने विधिवत पूजा अर्चना के बाद पदभार ग्रहण किया। मीडिया से रूबरू होते हुए उन्होंने कहा कि केंद्र एवं राज्य सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के सतत् क्रियान्वयन कर मुख्यमंत्री के कौशल विकास योजना से अधिकतम लोगों को स्वरोजगार देने की उनकी सर्वोच्च प्राथमिकता हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना की संभावित तीसरी लहर को दृष्टिगत रखते हुए स्वास्थ्य सेवाओं को सृदृढ़ करने के साथ ही मानसून के दौरान आइआरएस सिस्टम को अलर्ट रख कार्रवाई की जाएगी।

Rural Development Minister ने की विधान सभा में बैठक

उन्होंने बताया कि जनपद के चकराता, त्यूणी, कालसी जैसे दुर्गम स्थलों पर खाद्यान का संकट न हो इसके लिए गोदामों में खाद्यान की आपूर्ति सुनिश्चित की जाएगी। उन्होंने कहा कि जन समस्याओं का त्वरित गति से समाधान करने का पूरा प्रयास किया जाएगा तथा जिन समस्याओं का समाधान शासन स्तर पर होना है ऐसे समस्याओं के निदान के लिए सीएम डेशबोर्ड का सहारा लिया जाएगा।

जिला प्रशासन द्वारा अच्छी कार्यशैली विकसित करने का प्रयास

उन्होंने कहा कि जनता से मधुर व्यवहार करने के लिए सभी जिला स्तरीय अधिकारियों /कर्मचारियों को आवश्यक निर्देश दिए जाएंगे तथा किसी भी प्रकार के दुर्व्‍याहार को सहन नही किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सभी लोगों को साथ लेकर जिला प्रशासन द्वारा अच्छी कार्यशैली विकसित करने का प्रयास किया जाएगा। डेंगू व आपदा प्रबंधन के क्षेत्र में राज्य सरकार की ओर से जारी एसओपी का पूर्णरूप से परिपालन सुनिश्चित करना उनकी प्राथमिकता होगी। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में पर्यटन की अपार संभावनाएं है। इस के लिए पर्यटन को बढ़ावा देने के साथ ही कोरोना काल में मानवजीवन को बचाना भी नितांत आवश्यक है।

जिलाधिकारी डा आर राजेश कुमार 2007 बैच के प्रशासनिक अधिकारी हैं

बता दें कि जिलाधिकारी डा आर राजेश कुमार (Dehradun New District Magistrate) 2007 बैच के प्रशासनिक अधिकारी हैं तथा मूलतः तमिलनाडू के रहने वाले है। सिविल सर्विसेज से पूर्व वेटनरी चिकित्सक के रूप में अपनी सेवाएं दे चुके है। इससे पूर्व वह उत्तरकाशी एवं पिथौरागढ़ में मुख्य विकास अधिकारी एवं जिलाधिकारी के पद कार्य कर चुके है। वर्तमान में शासन स्तर कई अहम पदों पर अपनी सेवाएं दे चुके हैं। उन्होंने कहा कि राजधानी का जिलाधिकारी होने के कारण उनके समक्ष कई चुनौतियां भी हैं। इसक लिए अधिकारियों एवं कर्मचारियों से सहयोग प्राप्त कर हर चुनौती का सामना किया जाएगा।

केंद्र एवं राज्य सरकार की योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन और विकास योजनाओं विशेष फोकस

उन्होंने कहा कि केंद्र एवं राज्य सरकार की योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन और विकास योजनाओं को धरातल पर उतारने पर उनका विशेष फोकस रहेगा। उन्होंने कहा कि लोक सेवक का दायित्व जनता की सेवा करना है। इसके बाद जिलाधिकारी डॉ आर राजेश कुमार ने कोषागार पंहुचकर डबललाक का निरीक्षण कर आवश्यक दस्तावेजों पर हस्ताक्षर कर कोषागार का चार्ज ग्रहण किया।

इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी नितिका खण्डेलवाल, अपर जिलाधिकारी प्रशासन वीर सिंह बुदियाल, अपर जिलाधिकारी वि/रा गिरीश चंद्र गुणवंत, उप जिलाधिकारी सदर गोपालराम बिनवाल, उप जिलाधिकारी डोईवाला लक्ष्मीराज चैहान, नगर मजिस्टेस्‍ट्र कुश्म चैहान, अपर नगर मजिस्टेस्‍ट्र मायादत्त जोशी, विशेष भूमि अध्याप्ति अधिकारी अवधेश कुमार, मुख्य कोषाधिकारी रोमिल चैधरी, मुख्य वैयक्तिक अधिकारी वीरेंद्र सिंह, उप कोषाधिकारी गिरीश लाल समेत राजस्व एवं कोषागार के अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Uttrakhand Heavy Rainfall की मुख्यमंत्री ने की समीक्षा

Leave a Reply