PM Cares Fund: से आक्सीजन प्लांट का तीर्थनगरी से उद्घाटन कर सकते हैं पीएम

0
70

ऋषिकेश। PM Cares Fund: प्रधानमंत्री केयर फंड से देशभर के करीब 162 चिकित्सालयों में स्थापित हुए आक्सीजन प्लांट का उद्घाटन जल्द ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देवभूमि उत्तराखंड की धरती में तीर्थनगरी ऋषिकेश से कर सकते हैं। प्रधानमंत्री के संभावित कार्यक्रम को लेकर पुलिस और प्रशासन हरकत में आ गया है। फिलहाल राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती पर दो अक्टूबर को यह कार्यक्रम ऋषिकेश एम्स में हो सकता है।

National Service Scheme Awards: किए गए प्रदान, जानें- क्या बोले कोविन्द

201.58 करोड रुपए की धनराशि PM Cares Fund से जारी

कोरोना महामारी की दूसरी लहर में पूरे देश में आक्सीजन की कमी के कारण हाहाकार की स्थिति आ गई थी। जिसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनवरी 2021 में भारत के 32 राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों के 162 अस्पतालों में आक्सीजन संयत्र लगाने के लिए 201.58 करोड रुपए की धनराशि प्रधानमंत्री केयर फंड से जारी की थी। इसके बाद विभिन्न अस्पतालों में आक्सीजन संयंत्र स्थापित करने का काम शुरू किया गया, जो अब लगभग पूरा हो चुका है।

आक्सीजन उत्पादन क्षमता वाले पीएसए प्लांट बनकर तैयार

ऋषिकेश स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भी पीएम केयर्स फंड से 1000 एलपीएम (लीटर प्रति मिनट) आक्सीजन उत्पादन क्षमता वाले पीएसए (प्रेशर सेविंग एड्जॉबशन) प्लांट बनकर तैयार हो गया है। देशभर में स्थापित हुए इन आक्सीजन संयंत्रों का अब उद्घाटन प्रस्तावित है। बताया जा रहा है कि आगले माह की दो अक्टूबर (गांधी जयंती) अथवा सात अक्टूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आक्सीजन प्लांट्स का उद्घाटन कर सकते हैं।

इसके लिए ऋषिकेश एम्स में स्थापित प्लांट का भौतिक रूप से जबकि देशभर में स्थापित अन्य आक्सीजन प्लांट का वर्चुअल माध्यम से उद्घाटन किया जाएगा। प्रधानमंत्री के संभावित कार्यक्रम को लेकर पुलिस और प्रशासन हरकत में आ गया है। शुक्रवार को जिलाधिकारी देहरादून डा. आर राजेश कुमार व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून जन्मेजय खंडूरी ने टीम के साथ एम्स ऋषिकेश में व्यवस्थाओं का जायजा लिया।

एम्स के हेलीपैड में लगभग 100 मीटर के विस्तार में फैला हेलीपैड मौजूद

इस दौरान उन्होंने एम्स के अधिकारियों के साथ नवनिर्मित पीएसए प्लांट के अलावा कार्यक्रम के लिए संभावित स्थल, सेफ हाउस और हेलीपैड का निरीक्षण किया। एम्स की ओर से डीन अकादमिक प्रो. मनोज गुप्ता व डा. मधुर उनियाल ने जिलाधिकारी और एसएसपी को स्थलीय निरीक्षण करवाया। उन्होंने बताया कि एम्स के हेलीपैड में लगभग 100 मीटर के विस्तार में फैला हेलीपैड मौजूद है, जिसमें तीन एमआई-17 हेलीकाप्टर लैंड हो सकते हैं। इस दौरान टीम ने प्रधानमंत्री की सुरक्षा से जुड़े अन्य पहलुओं पर भी गंभीरता से चर्चा की। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी केके मिश्रा, उप जिलाधिकारी अपूर्व पांडे, कोतवाली प्रभारी निरीक्षक महेश जोशी आदि मौजूद रहे।

Mahant Giri Death Case: के मामले में CBI ने दर्ज किया केस

Leave a Reply