Uttarakhand Accident: मृतकों की संख्‍या बढ़कर हुई 27

3

Uttarakhand Accident:  उत्‍तराखंड के लिए मंगलवार का दिन अमंगल लेकर आया। पौड़ी जिले में बरातियों से भरी बस खाई में गिर गई। कल देर रात राहत बचाव कार्य चलाने के बाद आज बुधवार को तड़के दोबार रेक्‍क्‍यू शुरू किया गया। डीजीपी अशोक कुमार के अनुसार अब तक खाई से 25 शव बरामद किए जा चुके हैं। बस में करीब 45 लोग सवार थे।

RSS Chief Mohan Bhawat: संघ प्रमुख ने बताए बढ़ती जनसंख्‍या के दुष्‍परिणाम

Uttarakhand Bus Accident Live :

03:07 PM, 05 Oct 2022
मृतकों की संख्‍या बढ़कर हुई 27

मृतकों की सख्‍ंया बढ़कर 27 हो गई है। खाई से अभी तक 18 शव निकाले जा चुके हैं। वहीं नौ शव अभी भी खाई में हैं। जिन्हें निकलने का कार्य चल रहा है।

02:24 PM, 05 Oct 2022
अब तक 16 शव खाई से निकाले

दुर्घटना में अब तक 25 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है। जिनमें से 14 शव अस्‍पताल पहुंचाए जा चुके हैं। अस्‍पताल में 20 घायलों (Uttarakhand Accident) का इलाज किया जा रहा है। जिनमें दो लोगों की मौत से इलाज के दौरान हो गई। इस हिसाब से अब तक 16 शव खाई से निकाले जा चुके हैं।

01:58 PM, 05 Oct 2022
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने घोषित की सहायता राशि

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने 4 अक्तूबर को पौड़ी की घटना में प्रभावितों को आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है। जिसके तहत मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रूपये, गम्भीर घायल को 1-1 लाख रूपये और सामान्य घायल को 50-50 हजार रूपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को प्रभावितों को तत्काल सहायता राशि उपलब्ध कराने के निर्देश दिये हैं।

01:12 PM, 05 Oct 2022
मुख्‍यमंत्री ने तेजी से रेस्क्यू कार्य करने के निर्देश दिए

मुख्यमंत्री ने रेस्क्यू कर रहे एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, फायर ब्रिगेड, स्थानीय पुलिस, राजस्व पुलिस और इस कार्य में लगे विभिन्न विभागीय कार्मिकों को तेजी से रेस्क्यू कार्य करने के निर्देश दिए। उन्होंने स्थानीय प्रशासन को घायलों का त्वरित और समुचित उपचार करने के निर्देश दिए। प्रभावित परिवारों से मुलाकात करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि घायलों को उचित उपचार दिया जा रहा है। राज्य सरकार की ओर से प्रभावितों को हर संभव मदद दी जायेगी।

01:11 PM, 05 Oct 2022
कोटद्वार हॉस्पिटल पहुंचे मुख्‍यमंत्री पुष्‍कर सिंंह धामी
दुर्घटनास्‍थल का जायजा लेने के बाद मुख्‍यमंत्री पुष्‍कर सिंंह धामी कोटद्वार हॉस्पिटल पहुंचे। यहां उन्‍होंने घायलों का हालचाल जाना। इस अवसर पर उनके साथ पूर्व मुख्यमंत्री एवं सांसद डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक भी मौजूद रहे।

01:01 PM, 05 Oct 2022
18 बस सवार गंभीर घायल

राज्‍य आपदा परिचालन केन्‍द्र के अनुसार अब तक घटना स्थल से 20 घायलों का रेस्‍क्‍यू किया गया है। घायलों को विभिन्‍न अस्‍पतालों में भर्ती किया गया है। इनमें से 18 गंभीर घायल हैं और दो लोग सामान्‍य घायल हैं। वहीं 10 शव खाई से निकाले गए हैं।

12:42 PM, 05 Oct 2022
अब तक 20 लोगों का किया गया रेस्‍क्‍यू

रेस्क्यू किए गए घायलों का नाम पता :-

1- सैन सिंह पुत्र नामालूम, निवासी कोटद्वार, उम्र लगभग 45 वर्ष (कोटद्वार हॉस्पिटल में मौत)
2- अंजलि पुत्री धीरेन्द्र, निवासी-लालढांग, उम्र लगभग 17 वर्ष (कोटद्वार हॉस्पिटल से रेफर)
3- गौरव पुत्र तेजपाल, निवासी- अमोला, यमकेश्वर, उम्र लगभग 25 वर्ष
4- धनवीर पुत्र वीरेन्द्र, निवासी-उपरोक्त उम्र लगभग 18 वर्ष
5- धीरेन्द्र पुत्र ज्ञान सिंह, निवासी चांद द्वारिखाल, डाडामण्डी, उम्र लगभग 48 वर्ष
6. जयपाल पुत्र मोहन, निवासी लालढांग, उम्र लगभग 43 वर्ष। 7- पंकज नारंग पुत्र राकेश, निवासी लालढांग, उम्र लगभग 24 वर्ष
8- आकाश पुत्र धीरेन्द्र प्रसाद, निवासी- उपरोक्त उम्र लगभग 15 वर्ष 10
9- सुमित पुत्र धर्मपाल, निवासी लालढांग, उम्र लगभग 21 वर्ष
10- सादान पुत्र मुस्तकीम खान, निवासी बिजनौर उम्र लगभग 18 वर्ष
11- शिवानी पुत्री अनिल सिंह, निवासी लालढांग, उम्र लगभग 04 वर्ष
12- आदित्य पुत्र धनवीर सिंह निवासी दुगड्डा कोटद्वार, उम्र लगभग 11 वर्ष
13- पूजा पत्नी कुलदीप, निवासी-लालढांग, उम्र लगभग 30 वर्ष
14- पूनम पत्नी धनवीर निवासी उपरोक्त उम्र लगभग 32 वर्ष
15- मोहित पुत्र काशीनाथ, निवासी-लागढांग, उम्र लगभग 40 वर्ष
16- मथुरा प्रसाद पुत्र चण्डीप्रसाद, निवासी-यूसाचौड, तहसील कोटद्वार, उम्र लगभग 51 वर्ष
17- निखिल पुत्र ममराज, निवासी-मण्डावली, बिजनौर, उम्र लगभग 15 वर्ष
18- आशा देवी पत्नी अशोक निवासी कलालघाटी, कोटद्वार आ लगभग 31 वर्ष
19-अनूप पुत्र जगदीश, निवासी-पैलढागी, यमकेश्वर, उम्र लगभग 20 वर्ष
20. विशाल पुत्र बाबू निवासी जालपुर नजीबाबाद बिजनौर 30प्र0

12:29 PM, 05 Oct 2022
राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने घटना पर जताया दुख

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने घटना पर दुख जताया है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि पौड़ी गढ़वाल, उत्तराखंड में बस के घाटी में गिरने पर कई लोगों के हताहत होने की दुर्घटना से दुखी हूं। इस दुर्घटना में अपने प्रियजनों को खोने वाले परिवारों के प्रति मेरी गहरी शोक-संवेदनाएं। मैं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करती हूं।

12:26 PM, 05 Oct 2022
28 सीटर बस में सवार थे करीब दोगुने यात्री

बताया जा रहा है कि दुर्घटनाग्रस्‍त हुई बस में करीब दोगुने यात्री सवार थे। बस 28 सीटर थी और इस बस में करीब 45 लोग सवार थे। इस वजह से ओवर लोडिंग को भी हादसे का एक कारण माना जा रहा है।

12:02 PM, 05 Oct 2022
घटनास्‍थल से अब तक 13 शव निकाले
घटनास्‍थल से अब तक 13 शव निकाले जा चुके हैं। वहीं अब तक 25 बस सवार लोगों की मौत की आशंका है। बताया जा रहा है कि करीब तीन सौ मीटर गहरी खाई में गिरी बस चट्टान पर अटकी हुई है और बस के अंदर भी कई शव फंसे होने की आशंका है।

11:29 AM, 05 Oct 2022
कमानी टूटने से हुआ हादसा

बताया जा रहा है कि कमानी (पट्टा) टूटने के कारण बस अनियंत्रित हो गई और खाई में जा गिरी। घटना शाम चार बजे की बताई जा रही है। श्रीनगर, रुद्रपुर, खैरना, नैनीताल, अल्मोड़ा से एसडीआरएफ की टीम राहत बचाव कार्य में लगी है।

11:13 AM, 05 Oct 2022
घटनास्‍थल पर पहुंचे मुख्‍यमंत्री पुष्‍कर सिंह

घटनास्‍थल (Uttarakhand Accident) पर पहुंच कर मुख्‍यमंत्री पुष्‍कर सिंह धामी ने जायजा लिया। उन्‍होंने राहत बचाव अभियान की जानकारी ली। इस दौरान हरिद्वार सांसद रमेश पोखरियाल निशंक भी उनके साथ मौजूद रहे।

10:35 AM, 05 Oct 2022
अब तक खाई से निकाले 10 शव

मंगलवार रात से अब तक चले राहत बचाव कार्य में खाई से 10 शव निकाले जा चुके हैं। एसडीआरएफ व एनडीआरएफ की टीम खाई से शव निकलने में जुटी हुई है।

10:19 AM, 05 Oct 2022
सरकार घायलों को हर संभव मदद देगी : मुख्‍यमंत्री

मुख्यमंत्री पुष्‍कर सिंह धामी और हरिद्वार सांसद रमेश पोखरियाल निशंक ने दुर्घटना पर गहरा शोक व्यक्त किया और घायलों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है। उन्होंने कहा कि सरकार घायलों को हर संभव मदद देगी। जिन परिवारों ने दुर्घटना में अपनों को खोया है, सरकार हर वक्त उनके साथ खड़ी रहेगी।

10:18 AM, 05 Oct 2022
घायलों का हाल-चाल जानने के लिए कोटद्वार भी रवाना होंगे मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और पूर्व मुख्यमंत्री डा रमेश पोखरियाल निशंक सबसे पहले बीरोंखाल स्थित घटनास्थल पर जाएंगे और वहां बचाव व राहत कार्यों का जायजा लेंगे। साथ ही स्थानीय लोगों से बातचीत भी करेंगे। उसके बाद घायलों का हाल-चाल जानने के लिए कोटद्वार रवाना होंगे।

10:11 AM, 05 Oct 2022
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी घटनास्थल के लिए रवाना

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी घटनास्थल (Uttarakhand Accident)  ग्राम सिमडी, पौड़ी गढ़वाल के लिए रवाना हो गए हैं। पूर्व मुख्यमंत्री एवं हरिद्वार सांसद रमेश पोखरियाल निशंक भी उनके साथ में मौजूद हैं।

09:54 AM, 05 Oct 2022
गंभीर घायलों को किया जा रहा एयरलिफ्ट

बस दुर्घटना के गंभीर घायलों को हेली सेवा के जरिए एम्स ऋषिकेश में लाया जा रहा है। वहीं दूल्‍हा पक्ष के बस हादसे का शिकार होने के बाद बुधवार की सुबह हरिद्वार के लालढांग में सन्‍नाटा पसरा रहा। यहां बाजार बंद रहे और सड़कें सुनसान दिखीं। बता दें कि बरात लालढांग से ही पौड़ी के लिए चली थी।

09:12 AM, 05 Oct 2022
पीएम मोदी ने कहा- बस हादसा दिल दहला देने वाला

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने पौड़ी बस हादसे पर दुख व्‍यक्‍त किया है। उन्‍होंने इस संबंध में ट्वीट कर अपनी संवेदना प्रकट की है। उन्‍होंने लिखा कि उत्तराखंड के पौड़ी में हुआ बस हादसा दिल दहला देने वाला है। इस दुखद घड़ी में मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं। मुझे उम्मीद है कि जो लोग घायल हुए हैं वे जल्द से जल्द ठीक हो जाएं। बचाव कार्य जारी है। प्रभावितों को हर संभव मदद मुहैया कराई जाएगी।

08:51 AM, 05 Oct 2022
दूसरी गाड़ी में सवार थे दूल्हा और उसकी बहनें

दूल्हा और उसकी दो बहनें दूसरी गाड़ी में सवार थे। दूल्हे का भाई बस में सवार था। घटना के बाद दूल्हा भी घटनास्थल पर ही है। वधू पक्ष के लोग भी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं। शादी को दोनों पक्षों ने कहा है कि फिलहाल टाल दी है। बुधवार को इस बारे में कोई निर्णय लिया जाएगा।

08:02 AM, 05 Oct 2022
मुख्‍यमंत्री ने बुधवार के सभी कार्यक्रम रद दिए

मुख्‍यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अपने बुधवार के सभी कार्यक्रम रद कर दिए हैं। वह घटनास्‍थल पर जाएंगे और पीडि़तों का हालचाल जानेंगे। हादसे (Uttarakhand Accident) के बाद सीएम मंगलवार की शाम सचिवालय स्थित आपदा कंट्रोल रूम पहुंचे और हादसे की जानकारी ली। उन्‍होंने सचिवालय में अधिकारियों के साथ बैठक की। मुख्यमंत्री धामी ने लैंसडाउन विधायक दिलीप रावत से फोन पर बात की। मुख्यमंत्री धामी ने पौड़ी के जिलाधिकारी से भी फोन पर राहत बचाव की जानकारी ली। इस दौरान उन्‍होंने राहत बचाव में किसी भी स्तर पर देरी न होने देने के निर्देश दिए।

Pauri bus accident: मुख्यमंत्री धामी ने पौड़ी में हुई बस दुर्घटना स्थल का लिया जायजा

 

Leave a Reply