देहरादून से 29 बसों में 804 लोगो की हुई घऱ वापसी

0
1523

केंद्र सरकार की गाइडलाइन के बाद आज  उत्तराखंड सरकार ने देहरादून के रिलीफ कैम्पों में अस्थायी रूप से रह रहे उत्तरप्रदेश के लोगों को क्वारंटीन अवधि पूरा होने पर वापस घर भेजा है . करीब 15 बसों में 276 लोगो को  सोशल डिस्टनसिंग के तहत  घर भेजा गया है इसी क्रम में अन्तर्राज्यीय लोगों को भी देहरादून से उनके गृह जनपद में वापस भेजा गया है। सबसे पहले जनपद पौड़ी के लोगों को भेजा गया उसके बाद अलग अलग जजनपदों में 29 बसों में सोशल डिस्टेंसिग के साथ 804 लोगों को रवाना  किया गया.

ये भी पढ़े:- वीडियो : देहरादून के इस इलाके को किया गया सील

उत्तराखंड से बाहर देश के अलग अलग राज्यों में फंसे 86 हज़ार लोग घर वापसी के लिए अब तक पंजीकरण करा चुके हैं मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने दूसरे राज्य में फंसे उत्तराखण्डवासियो को सकुशल घर वापसी के  निर्देश दिए हैं तो वही दिल्ली से  सबसे अधिक 26 हजार लोगों का पंजीकरण हो चुका है।

ये भी पढ़े :-उत्तराखंड में 4 मई से खुलेंगे सभी सरकारी दफ्तर, 7 से 4 बजे तक खुलेंगी दुकाने, रेड जोन में राहत नही

रुद्रप्रयाग जिले के 4000 से अधिक लोगो ने अपने घर भेजने के लिए राज्य सरकार को आवेदन किया है। यूपी से कल से वापसी शुरू होगी। और आने वाले दिनों में यह आकडा काफी अधिक जा सकता है

ये भी पढ़े :-   अभी -अभी उत्तराखंड आने वाले लोगो के लिए पुलिस ने जारी की ये नई गाइडलाइन

वहीं बात करे हल्द्वानी की तो हल्द्वानी स्टेडियम में बनाया गया होम शेल्टर होम से 124 लोगों को घर भेजा गया  है।तो वही टनकपुर, पिथौरागढ़ और चम्पावत जिले के होम शेल्टर से यूपी के 441 लोगो को  उत्तराखंड रोडवेज बसों से रवाना  किया गया है ।

ये भी पढ़े : इन कक्षा के छात्रों  का चार सप्ताह का कोर्स होगा कम

एक महीने  से भी अधिक  समय के कारण  देहरादून में फंसे 30  हज़ार  के करीब  लोग अपने घर वापसी के लिये  तैयार है इन सभी की लिस्ट पुलिस चौकी प्रभारियों ने मुख्यालय को भेज दी है।

आज पहले चरण में उत्तराखंड के पडोसी राज्य  उत्तरप्रदेश के मजदूरों को राज्य परिवहन की  बसों में भेजने का काम शुरू किया गया  है

श्रमिकों की संख्या

उत्तर प्रदेश -15243, बिहार-13048, झारखंड-435, पश्चिम बंगाल -220, मध्य प्रदेश-193, छत्तीसगढ़-172, जम्मू कश्मीर-242, हरियाणा-94, राजस्थान-86, हिमाचल प्रदेश- 78, पंजाब-47, दिल्ली-54, महाराष्ट्र-28, असम-21, चंडीगढ़-14, उड़ीसा-05, गुजरात-04, कर्नाटक-02, तेलांगना-01, नेपाल-459, उत्तराखंड-127।

LEAVE A REPLY