हार के कारणों को समझने के लिए अमेठी जा रहे राहुल गांधी

0
6635

10 जुलाई को एक दिवसीय अमेठी दौरे पर रहेंगे राहुल गांधी

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव में अमेठी की अपनी परंपरागत सीट गंवाने के बाद राहुल गांधी पहली बार वहां जा रहे हैं। 10 जुलाई को वह अमेठी में पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक करेंगे। इस दौरान वह चुनाव में मिली हार के कारणों की समीक्षा भी करेंगे। दरअसल, अमेठी लोकसभा क्षेत्र कांग्रेस का गढ़ रहा है और यहां मिली करारी शिकस्त केवल राहुल के लिए नहीं बल्कि पूरी पार्टी के लिए बड़ा झटका है।

अमेठी में कार्यकर्ताओं से मिलेंगे

सूत्रों के अनुसार एकदिवसीय दौरे में वह कांग्रेस कार्यकर्ताओं के अलावा आम लोगों से भी मुलाकात करेंगे। आपको बता दें कि अमेठी सीट से बीजेपी की उम्मीदवार स्मृति इरानी चुनाव जीत गई थीं। राहुल गांधी अमेठी से हार गए पर केरल की वायनाड सीट से जीतकर वह लोकसभा पहुंचने में जरूर कामयाब रहे। नतीजे आने के बाद भी स्मृति इरानी राहुल गांधी पर हमलावर रही हैं। ऐसे में राहुल जब अमेठी पहुंचेंगे तो हार पर क्या कहेंगे, इस पर सबकी नजरें होंगी।

कांग्रेस पार्टी को अब अपना नया अध्यक्ष चुनना है

गौरतलब है कि चुनावों में कांग्रेस पार्टी को मिली करारी हार की जिम्मेदारी लेते हुए राहुल गांधी ने हाल में कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया। उन्होंने कहा है कि पार्टी को मजबूत करने के लिए कई कड़े फैसले लेने होंगे। उनके बाद टीम राहुल के कई युवा नेताओं ने भी अपने इस्तीफे सौंप दिए। कांग्रेस पार्टी को अब अपना नया अध्यक्ष चुनना है।

नए अध्यक्ष को चुने जाने की प्रक्रिया में शामिल नहीं होंगे राहुल

उन्होंने औपचारिक तौर पर अपने इस्तीफे की घोषणा तो कर दी है लेकिन पार्टी ने औपचारिक तौर पर अभी राहुल गांधी का इस्तीफा स्वीकार नहीं किया है। दिलचस्प बात है कि 10 जुलाई को ही कांग्रेस की कार्यसमिति की भी मीटिंग हो सकती है, जिसमें राहुल गांधी का इस्तीफा औपचारिक रूप से स्वीकार हो सकता है। राहुल गांधी पहले ही कह चुके हैं कि वह नए अध्यक्ष को चुने जाने की प्रक्रिया में शामिल नहीं होंगे।

LEAVE A REPLY