उत्तर प्रदेश निर्माण निगम की कार्यशैली सवालों के घेरे में

0
142
देहरादून। पहले से ही धांधलियों के मामले विवादों में घिरे उत्तर प्रदेश निर्माण निगम का नया मामला फिर प्रकाश में आया है। रूड़की निवासी आरिफ कादरी ने आरोप लगाया कि उप्र निर्माण निगम में कार्यरत अधिकारी उत्तराखण्ड को लगातार चूना लगाने का काम कर रहे हैं।

दो अधिकारियों पर धांधली कर चूना लगाने का आरोप

आयोजित पत्रकार वार्ता में आरिफ कादरी ने कहा कि उत्तर प्रदेश निर्माण निगम के अधिकारी उत्तराखण्ड में लगातार धांधली कर अपनी गतिविधियों को अन्जाम दे रहे हैं। जिनकी शिकायत उन्होंने शासन व पुलिस से भी की। किन्तु भ्रष्टाचार में लिप्त अधिकारियों के खिलाफ आज तक कोई कार्यवाही नही हो पायी।

नए अधिकारियों ने भी इस मामले में लीपापोथी शुरू कर दी

उन्होंने कहा कि उत्तरप्रदेश निर्माण निगम में तैनात दो प्रोजेक्ट मैनेजरों ने गबन कर चूना लगाने का काम किया है। उन्हांेने बताया कि इन दोनों आरोपियों ने दून अस्पताल में ओपीडी व ओटी में धांधली कर गलत भुगतान किया। जिसकी शिकायत किए जाने के बाद मामला दबाने के लिए इन्हे ट्रांसफर कर लखनउ में अटैच कर दिया गया। उसके बाद नए आए अधिकारियों ने भी इस मामले में लीपापोथी शुरू कर दी।

जांच के आदेश

कादरी ने कहा कि जब यह मामला उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री के संज्ञान में आया तो उन्होंने  इसपर जांच के आदेश दिए। किन्तु जांच के आदेश देने के छह माह गुजर जाने के बाद भी कोई परिणाम सामने नहीं आया। उसके बाद उन्होंने आरटीआई के माध्यम से सारा ब्यौरा मांगना चाहा किन्तु उसके बाद से उन्हें लगातार धमकियां मिल रही हंै।
साथ ही निर्माण निगम में जो उन्होंने काम भी किया था उसका भुगतान भी रोक दिया गया। जिससे उन्हें कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने उत्तराखण्ड को चूना लगाने वाले दोषियों के खिलाफ कार्यवाही किए जाने की मांग के साथ ही उनका विभाग में रहा बकाया भुगतान किए जाने की मांग की है।

LEAVE A REPLY