Sponsored
loading...

भारी बर्फबारी तथा ओलावृष्टि होने की सम्भावना  की चेतावनी

0
2173

13 को देहरादून जिले के कक्षा 1 से 12वीं तक के सभी विद्यालयों में अवकाश रहेगा

देहरादून। मौसम विभाग द्वारा जारी मौसम पुर्वानुमान के अनुसार 13 दिसम्बर को जनपद के उचांई वाले स्थानों पर कहीं-कहीं पर भारी बर्फबारी तथा ओलावृष्टि होने की सम्भावना  की चेतावनी को दृष्टिगत रखते हुए जिलाधिकारी सी रविशंकर ने 13 दिसम्बर को जनपद के कक्षा 1 से कक्षा 12 तक संचालित समस्त शासकीय एवं गैर शासकीय शैक्षणिक संस्थाओं और आंगनबाड़ी केन्द्रो में एक दिन का अवकाश घोषित किया है। उन्होंने समस्त उप जिलाधिकारियों, तहसीलदारों सहित मुख्य शिक्षा अधिकारी एवं जिला कार्यक्रम अधिकारी को जनपद में आदेशों का अनुपालन करवाने के निर्देश दिये।

आंगनबाड़ी केंद्रों में अवकाश घोषित

केदारनाथ समेत चारधाम में बर्फबारी हुई है, जबकि मैदानी इलाकों में रुक रुककर बारिश हुई। इससे सर्दी बढ़ गई। मौसम विभाग के साथ ही प्रशासन ने सर्दी को देखते हुए आरेंज अलर्ट जारी किया है। इसके चलते उत्‍तरकाशी समेत कई जिलों के जिलाधिकारी ने शुक्रवार को सभी सरकारी व निजी विद्यालयों, आंगनबाड़ी केंद्रों में अवकाश घोषित किया है।

केदारनाथ में भारी बर्फबारी, मौसम हुआ ठंडा

गुरुवार को केदारनाथ में भारी बर्फबारी हुई, वहीं जिले के सभी ऊंचाई वाले स्थानों पर भी बर्फबारी हुई, जबकि निचले इलाकों में बारिश का सिलसिला पूरे दिन जारी रहा। जिससे पूरे जनपद में ठंड का प्रकोप बढ़ गया है। केदारनाथ में सुबह पांच बजे से बर्फबारी शुरू हो गई थी, जो रुक-रुककर पूरे दिन चलती रही। दो फीट से अधिक ताजी बर्फ धाम में जम गई है। केदारनाथ में न्यूनतम तापमान माइनस 12 डिग्री पहुंच गया है। वहीं, पुर्ननिर्माण कार्य भी बुरी तरह प्रभावित हुए हैं।

दूसरी ओर चोपता, दुगलबिट्टा, तुंगनाथ, मदमहेश्वर में भी बर्फबारी हुई। यहां भी ठंड का प्रकोप बढ़ गया है। उधर, घाटी वाले क्षेत्रों में पूरे दिन बारिश का सिलसिला जारी रहा। जिससे जोरदार ठंड महसूस की गई। केदारनाथ में पुनर्निर्माण कार्य कर रहे वुड स्टोन कंस्ट्रक्शन कंपनी के प्रभारी देवेंद्र बिष्ट ने बताया कि तामपान माइनस 12 डिग्री पहुंच गया है, ठंड अधिक होने से निर्माण कार्य प्रभावित हो रहे हैं।

बर्फबारी से बदरीनाथ हाइवे हनुमानचट्टी से आगे बंद

विश्व प्रसिद्ध पर्यटनस्थल और हिमक्रीड़ा केंद्र औली में साल की दूसरी बर्फबारी से पर्यटकों के चेहरे खिल गए है। रात्रि से रुक-रुककर हो रही बर्फबारी से औली में दो फिट से अधिक बर्फ जम गई है। बर्फबारी से बदरीनाथ हाईवे हनुमानचट्टी से आगे बदरीनाथ तक बंद है। इससे सेना के वाहनों की आवाजाही फिलहाल ठप है। जोशीमठ औली मोटर मार्ग भी औली से दो किमी पहले कवांण बैंड के पास बंद हो गया है। हालांकि, रोपवे सुचारू रहने से पर्यटकों की आवाजाही लगातार चल रही है। बर्फबारी के चलते औली में दो फिट बर्फ जम चुकी है। इससे औली में पर्यटकों का जमावड़ा लग रहा है। पर्यटक औली में हो रही बर्फबारी का जमकर मजा ले रहे हैं।

गंगोत्री-यमुनोत्री सहित हर्षिल में हुई बर्फबारी

उत्तरकाशी के ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी और निचले इलाकों में बारिश होने से तापमान में और गिरावट आई। बुधवार रात से मौसम में आए बदलाव से उत्तरकाशी में ठंड का प्रकोप बढ़ गया है। गुरुवार सुबह से गंगोत्री-यमुनोत्री सहित हर्षिल, खरसाली, दयारा बुग्याल में बर्फबारी हुई। ऊंचाई वाली चोटियां भी बर्फ की चादर से ढक गई है। मौसम के अलर्ट को देखते हुए उत्तरकाशी के जिलाधिकारी डॉ. आशीष चौहान ने 13 दिसंबर को सभी सरकारी व निजी विद्यालयों, आंगनबाड़ी केंद्रों में अवकाश घोषित किया। गुरुवार की सुबह ऊंचाई वाले स्थानों में बर्फबारी हुई, जो पूरे दिन जारी रही।

वहीं, भटवाड़ी, डुंडा, चिन्यालीसौड़, पुरोला, उत्तरकाशी में दिन भर हल्की बारिश होती रही। बर्फबारी होने गुरुवार को गंगोत्री का तापमान अधिकतम 3 डिग्री सेल्सियस तथा न्यूनतम माइनस 7 डिग्री दर्ज किया गया। वहीं यमुनोत्री का तापमान शनिवार को अधिकतम 2 डिग्री व न्यूनतम माइनस 8 डिग्री दर्ज किया गया। उत्तरकाशी जिला मुख्यालय का अधिकतम तापमान 10 डिग्री तथा न्यूनतम तापमान 3 डिग्री दर्ज किया गया।

loading...

LEAVE A REPLY