नौकरी के नाम लगाया 18 लाख का चूना

0
594

गाजियाबाद के कारोबारी का अपहरण करने के मामले में गिरफ्तार एयरफोर्स के जवान प्रदीप सिंह ने नौकरी दिलाने के नाम पर तीन लोगों से 18 लाख रुपये लिए थे। यही पैसा वापस करने के लिए उसने कारोबारी का अपहरण किया था। पुलिस ने रविवार को तीनों अपहरणकर्ताओं के खिलाफ केस दर्ज कर लिया। साथ ही क्राइम ब्रांच की टीम आरोपियों को गाजियाबाद लेकर रवाना हो गई।

ज्वालापुर पुलिस ने किया मुकदमा दर्ज

बीते गुरुवार को गोविंदपुरम गाजियाबाद निवासी अनिल कुमार अरोड़ा पुत्र अविनाशी लाल का बोंझा स्थित औद्योगिक क्षेत्र की फैक्ट्री से तीन बदमाशों ने अपहरण कर लिया था। शनिवार को क्राइम ब्रांच और गाजियाबाद पुलिस ने ज्वालापुर की रामनगर कॉलोनी में तीन अपहरणकर्ताओं के साथ मुठभेड़ के बाद कारोबारी को बरामद कर लिया था। मुठभेड़ में गिरफ्तार हुए प्रदीप पुत्र वजीर सिंह निवासी जिंद हरियाणा, राशिद पुत्र शौकीन निवासी मंसूरी, मेरठ और मोहसीन पुत्र इकबाल के खिलाफ ज्वालापुर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। मुठभेड़ में घायल हुए एयरफोर्स के जवान प्रदीप सिंह और राशिद को जिला अस्पताल में उपचार दिलाया गया। मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश करने के बाद पुलिस आरोपियों को गाजियाबाद ले गई।

कई घंटे हुई पूछताछ में अपहरणकर्ताओं के सरगना प्रदीप ने पुलिस को बताया है कि उसने पैसों के लिए कारोबारी का अपहरण किया था। प्रदीप ने बताया कि उसने एसएससी की परीक्षा में सेटिंग के लिए तीन लोगों से 18 लाख रुपये लिए थे। प्रदीप ने बताया कि उसने जिस व्यक्ति को यह पैसे दिए थे वह फरार हो गया था। इसी पैसे को वापस करने के लिए उसने अपहरण की योजना बनाई थी।

LEAVE A REPLY