अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम का नाम बदलने पर राजनीति न कांग्रेस: पांडेय

0
375

खेल मंत्री अरविंद पांडेय ने विपक्षी राजनीतिक दलों को दून के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम का नाम बदलने पर राजनीति न करने की सलाह दी है। पांडेय ने कहा कि स्टेडियम का नाम बदलने पर अभी मात्र चर्चा हुई है, लेकिन कांग्रेस ने स्टेडियम में धरना-प्रदर्शन की चेतावनी दे डाली है। स्टेडियम में इस तरह की ओछी हरकत किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं की जाएगी। राजनीति करने के लिए कई और मंच हैं, जबकि धरना-प्रदर्शन करने के लिए भी सरकार ने जगह चिह्नित की हुई है। किसी को भी विरोध-प्रदर्शन करना है तो वे स्वतंत्र है, लेकिन खेल के नाम पर किसी भी तरह की राजनीति बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

रायपुर स्थित राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में मंगलवार को खेलमंत्री अरविंद पांडेय ने पुलिस, प्रशासन व खेल विभाग के अधिकारियों के साथ अंतरराष्ट्रीय टी-20 मैचों के आयोजन को सफल बनाने के लिए समीक्षा बैठक ली। स्टेडियम का नाम बदलने पर कांग्रेसी नेताओं ने स्टेडियम में धरना-प्रदर्शन की चेतावनी दी है, इस सवाल पर मंत्री ने खुलकर कहा कि इस स्टेडियम में अंतरराष्ट्रीय मैच होना उनकी सरकार की बड़ी उपलब्धि है।

अफगानिस्तान का होम ग्राउंड बनाने से लेकर मैचों के आवंटन के लिए उन्होंने खुद बीसीसीआइ से पैरवी की। आइसीसी के प्रतिनिधि भी इस स्टेडियम को विश्व का खूबसूरत स्टेडियम करार दे चुके हैं। कांग्रेस सरकार ने यहां केवल खली का एक फर्जी शो करवाकर पूरे विश्व में प्रदेश की किरकिरी करवाई।

स्टेडियम का नाम बदलने को लेकर अभी केवल हुआ विचार

स्टेडियम का नाम बदलने को लेकर अभी केवल विचार हुआ है, इसमें अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। जहां तक मुख्य द्वार पर राजीव गांधी का नाम गायब होने की बात है तो अब स्टेडियम का संचालन निजी कंपनी के हाथों में दे दिया गया है। वे अपनी कंपनी का लोगो आदि लगाकर अपने तरीके से गेट की सजावट करेंगे। स्टेडियम की तारीफ कर गए श्रीनाथ आइसीसी के प्रतिनिधि के तौर पर क्रिकेट स्टेडियम का निरीक्षण करने पहुंचे पूर्व अंतरराष्ट्रीय दिग्गज गेंदबाज जवागल श्रीनाथ ने मंगलवार सुबह एक बार फिर स्टेडियम का दौरा किया। इससे पहले सोमवार रात उन्होंने फ्लड लाइट में स्टेडियम का मुआयना किया था।

मंगलवार सुबह स्टेडियम का निरीक्षण करते वक्त सुरक्षा कर्मियों को स्टेडियम से बाहर कर दिया गया था। केवल स्टेडियम संचालक कंपनी के अधिकारी ही श्रीनाथ के साथ मौजूद रहे। आइएल एंड एफएस के वाइस प्रेसीडेंट के शशिधर ने कहा कि श्रीनाथ इस स्टेडियम को विश्व के सबसे खूबसूरत स्टेडियम में से एक बता गए हैं। जो सुविधाएं इस स्टेडियम में उपलब्ध हैं, वे कम जगह देखने को मिलती हैं। आम जनता के लिए जो शौचालय बना है, वैसा शौचालय किसी भी स्टेडियम में नहीं है। श्रीनाथ स्टेडियम की सुविधाओं से पूरी तरह संतुष्ट होकर गए हैं। जल्द ही स्टेडियम आइसीसी के पैनल में शामिल हो जाएगा।

LEAVE A REPLY