राफेल सौदे को लेकर सूबें की राजनीति में बवाल

0
116

देहरादून। संवाददाता। राफेल सौदे पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद दिल्ली से लेकर दून तक सियासी संग्राम तेज हो गया है। बीते कल मुख्यमंत्री द्वारा कांग्रेस नेताओं पर झूठ की राजनीति करने का आरोप लगाये जाने के बाद राहुल गांधी से माफी मांगने की मांग की गयी थी वहीं आज भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष ने राहुल गांधी पर बड़ा हमला बोलते हुए उन्हे मानसिक रूप से विकलांग करार देते हुए कहा कि वह राजनीति के लायक ही नहीं है।

आज राजधानी में पत्रकारों से वार्ता के दौरान अजय भट्ट ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद यह साफ हो गया है कि राफेल सौदे में कोई गड़बड़ी नहीं हुई है। राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री और केन्द्र सरकार पर झूठा आरोप लगाकर जिस तरह देशवासियों को गुमराह किया गया था इस निर्णय से कांग्रेस और राहुल गांधी की पोल खुल गयी है।

राहुल माफी भी मांगेगे तो भी उसका कोई महत्व नहीं

उन्होने कहा कि राहुल गांधी में किसी मुद्दे पर सोचने की शक्ति नहीं है वह बचकाने बयान देते है तथा वह राजनीति के काबिल नहीं है। उन्होने कहा कि राहुल माफी भी मांगेगे तो भी उसका कोई महत्व नहीं है।

अजय भट्ट का कहना है कि यह कोई पहली बार नहीं हुआ है। राहुल गांधी ने पाकिस्तान पर की गयी सर्जिकल स्ट्राइक के समय भी देश की सेनाओं पर शक किया गया था तथा सर्जिकल स्ट्राइक पर भी सबूत मांगे थे।

उन्होने कहा कि सुप्रीम कोर्ट जैसी सवौच्च संस्थाओ पर कांग्रेस का भरोसा नहीं है इसलिए वह इस फैसले पर भी सवाल उठा रहे है। उन्होने कहा कि इस झूठ से देश के लोगों के सामने कांग्रेस का असली चेहरा भी सामने आ गया है। कि वह किस तरह की राजनीति करते है।

उधर पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत का कहना है कि भाजपा द्वारा सुप्रीम कोर्ट को सही और पूरे तथ्य भी पेश नहीं किये गये है। उन्होने राफेल में भ्रष्टाचार का दावा करते हुए कहा कि इस डील में अनिल अम्बानी को क्यों शामिल किया गया। सीएजी में क्यो नहीं आई रिपोर्ट। उन्होने कहा कि इस डील में राफेल की कीमतें तीन गुना बढ़ा दी गयी बहुत सारे सवाल है जिनका सच देश के लोगों के सामने लाया जायेगा। उन्होने कहा कि भाजपा संवैधानिक संस्थाओं का अस्तित्व समाप्त करने में लगी हुई है।

LEAVE A REPLY