टीकाकरण अभियान ठप होने से मायूस लौटे लोग

0
238

देहरादून: शहर में गुरुवार को टीकाकरण अभियान ठप रहा। सेना अस्पताल व चिकित्सा अधीक्षक आवास (दून मेडिकल कालेज) को छोड़ अन्य किसी भी केंद्र पर टीकाकरण नहीं हुआ। शहर के प्रमुख सरकारी अस्पताल, दून मेडिकल कालेज चिकित्सालय से भी जन सामान्य को बिना टीकाकरण लौटना पड़ा। इस कारण कुछ लोग ने अस्पताल में हंगामा भी किया। उनका कहना था कि मोबाइल पर टीका लगाने के लिए मैसेज आया, पर यहां बताया गया कि वैक्सीन खत्म है। मामला बढ़ता देख अधिकारियों को हस्तक्षेप करना पड़ा। उनके समझाने के बाद लोग शांत हुए।

दिल्ली दौरे पर जा रहे धामी प्रधानमंत्री गृह मंत्री के साथ कर सकते हैं मुलाकात

स्पताल में टीके न लगने पर कई देर तक हंगामा

बता दें कि वैक्सीन लगभग खत्म है। पर 84 दिन बाद कोविशील्ड की दूसरी खुराक लगाने के मैसेज लोग के मोबाइल पर पहुंच रहे हैं। ऐसे में बड़ी संख्या में लोग हर दिन टीकाकरण केंद्रों का रुख कर रहे हैं। टीकाकरण अभियान गुरुवार को दून मेडिकल कालेज अस्पताल के नए ओपीडी भवन में 150 से अधिक लोग टीका लगाने पहुंचे, लेकिन किसी को भी टीका नहीं लग पाया। उन्हेंं बताया गया कि टीका खत्म है, जब स्वास्थ्य विभाग से टीके आएंगे तभी लग पाएंगे। इसे लेकर लोग की अस्पताल कर्मियों और सुरक्षाकर्मियों से नोकझोंक भी हुई। अस्पताल में टीके न लगने पर कई देर तक हंगामा होता रहा। शुक्रवार को भी टीके मिलने की कम ही संभावना है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. मनोज उप्रेती ने बताया कि

जिले में कोविशील्ड और कोवैक्सीन दोनों का स्टाक लगभग खत्म हो गया है। कुछ टीके जो केंद्रों पर भेजे गए हैं, वहीं लोग को लगाए जा रहे हैं। शुक्रवार को भी जो कुछ टीके केंद्रों पर उपलब्ध हैं, वहीं लग पाएंगे। 18-44 आयुवर्ग में सात केंद्रों पर कोविशील्ड की 930 खुराक लगाई जाएगी। जबकि कोवैक्सीन के लिए चार केंद्र बनाए हैं। जहां 670 व्यक्तियों को टीका लगेगा। वहीं 45 साल से अधिक के व्यक्तियों के लिए 33 केंद्र बनाए गए हैं। इनमें 11 केंद्रों पर कोविशील्ड की 14 सौ और 22 पर कोवैक्सीन की 2470 खुराक लगाई जाएगी। इस आयुवर्ग में केवल दूसरी खुराक ही लग रही है। उन्होंने बताया कि 12 जुलाई तक वैक्सीन मिलने की उम्मीद है।

कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के बीच बढ़ी चिंताएं

Leave a Reply