Last Journey of Kalyan Singh: का पार्थिव देह बुलंदशहर के नरौरा पहुंची

0
118

बुलंदशहर। Last Journey of Kalyan Singh: भारत की राजनीति में दृढ़ता, पारदर्शिता, आर्दश व मूल्य की प्रतिकृति पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की पार्थिव देह को सोमवार को उनकी कर्मभूमि अलीगढ़ से जन्मभूमि उनके पैतृक गांव अतरौली लाया गया था। अब उनके गांव में लोग अपने जनप्रिय नेता का अंतिम दर्शन किए। इसके बाद पार्थिव देह को बुलंदशहर के नरौरा लाया गया है। दोपहर में अंतिम यात्रा बुलंदशहर की सीमा पर पहुंच गई थी। कल्याण सिंह की पार्थिव देह की अंत्येष्टि सोमवार शाम को करीब पांच बजे बुलंदशहर के नरौरा में गंगा नदी के तट पर की जाएगी। प्रशासन ने तैयारियों को अंतिम रूप दे दिया है।

Uttarakhand Kranti Dal: ने भू-कानून की मांग को लेकर किया विधानसभा कूच

पूर्व कल्याण सिंह की पार्थिव देह के अंतिम दर्शन कर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने श्रद्धांजलि दी

इसके पूर्व कल्याण सिंह की पार्थिव देह के अंतिम दर्शन कर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने श्रद्धांजलि दी। यूपी की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल अतरौली पहुंच गईं, कुछ ही देर के अंतर पर डिप्‍टी सीएम दिनेश शर्मा भी पहुंच गए हैं। राज्‍यपाल व डिप्‍टी सीएम ने श्रद्धांजलि दी। करीब पौने दो बजे कल्याण सिंह की अंतिम यात्रा नरौरा के लिए रवाना हो गई। इस दौरान मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ मौजूद रहे।

गृह मंत्री अमित शाह के साथ ही मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की पार्थिव देह के अंतिम दर्शन करने के लिए अतरौली पहुंचे हैं। उनके साथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी हैं। गृह मंत्री अमित शाह, मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज चौहान कल्याण सिंह की कर्म भूमि अतरौली पहुंचे हैं। सीएम योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में अमित शाह व शिवराज सिंह चौहान ने स्वर्गीय कल्याण सिंह को वहां पर श्रद्धांजलि दी है।

भाजपा को हमेशा खलेगी कल्याण सिंह की कमी : अमित शाह

देश के गृह मंत्री अमित शाह सोमवार को पूर्व सीएम कल्याण सिंह (बाबूजी) को श्रद्धा सुमन अर्पित करने के बाद कहा कि राम मंदिर का शिलान्यास हुआ था, उसी दिन मेरी बाबु जी बात हुई थी। उन्होंने कहा था कि मेरे जीवन का लक्ष्य पूरा हो गया। बाबू जी का पूरा जीवन यूपी के विकास व गरीब लोगों के लिए समर्पित रहा। देश को बेहतर दिशा दी। विकास को नई गति। बाबू जी के जाने से भाजपा में जो जगह खाली हुई है, उसकी लंबे समय तक भरपाई नहीं हो सकती। बाबू जी लंबे समय से सक्रिय राजनीति में न रहतेे हुए भी अपनी पूरी भूमिका रखते थे। युवा भी बाबू को आदर्श मानते है। वह हमेशा भाजपा के प्रेणा श्रोत रहेंगे।

अतरौली में उनकी पार्थिव देह को एनेक्सी भवन में रखा गया

पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की पार्थिव देह को अलीगढ़ के महारानी अहिल्याबाई होल्कर स्टेडियम से अब अतरौली में उनके पैतृक गांव लाया गया है। अतरौली में उनकी पार्थिव देह को एनेक्सी भवन में रखा गया है। इससे पहले अलीगढ़ में सड़क के दोनों तरफ खड़े होकर अपने बेहद लोकप्रिय नेता का अंतिम दर्शन कर रहे थे। बाबू जी की याद में हर आंख नम हो गयी थीं।

Last Journey of Kalyan Singh: अलीगढ़ में कल दोपहर बाद से आज सुबह तक लोगों ने पूर्व सीएम कल्याण सिंह को महारानी अहिल्याबाई होल्कर स्टेडियम में श्रद्धांजलि दी। अब उनकी पार्थिव देह का अंतिम संस्कार आज शाम को बुलंदशहर में नरौरा के बंसी घाट पर होगा। रविवार को उनकी पाॢथव देह को एयर एंबुलेंस से लखनऊ से अलीगढ़ के धनीपुर एयरपोर्ट लाया गया था जहां से अहिल्याबाई होल्कर स्टेडियम ले जाया गया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सतत निगरानी में यहां पर लोग कल्याण सिंह की पार्थिव देह का अंतिम दर्शन कर रहे थे। प्रदेश सरकार के मंत्री सूर्यप्रताप शाही, भाजपा नेता संतोष गंगवार व मेयर मोहम्मद फुरकान ने पूर्व मख्यमंत्री कल्याण सिंह को श्रद्धासुमन किया। उनके अंतिम संस्कार के समय गृह मंत्री अमित शाह के साथ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के भी आने का कार्यक्रम है। अंतिम संस्कार में राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र के भी आने की संभावना है।

सुबह दस बजे पूर्व मुख्‍यमंत्री कल्‍याण सिंह का पार्थिव देह अलीगढ़ के अहिल्‍याबाई होल्‍कर स्‍टेडियम से उनके पैतृक गांव हरदुआगंज ले जाया गया।

कल्याण सिंह के अंतिम दर्शन को उमड़ा जनसमूह

अतिक्रमण, अवैध कट और लचर रूट डायवर्जन है जाम की बड़ी वजह, क्यों नहीं हो रहा सुधार।
Jam In Meerut: रैपिड रेल से सीखिए काम करने का तरीका, योजनाबद्ध तरीके से चलें तो मिलेगी जाम से राहत

Last Journey of Kalyan Singh: ग्रामीण क्षेत्र में भी लोग दर्शन को उमड़े

बिजनौर में सड़क हादसों में मासूम बच्‍चों सहित पांच की मौत हो गई।
यूपी : बिजनौर में रक्षाबंधन पर टूटा कहर, हादसों में मां, बेटी और बेटे सहित पांच लोगों की मौत

पैतृक गांव के अंदर नहीं ले जाया गया पार्थिव देह

कल्याण सिंह का पार्थिव देह स्‍टेडियम से अतरौली के लिए ले जाया गया। इस दौरान पार्थिव शरीर को उनके गांव के अंदर नहीं ले जाया गया।

हर तरफ गूंज उठा जय श्रीराम गूंज उठा

बाबू जी की अंतिम यात्रा के दौरान जगह-जगह लोगों की भीड़ जमा रही। इस दौरान लोगों ने जय श्रीराम के नारे लगाए।

National Women Commission: की अध्यक्ष ने सीएम धामी से की मुलाकात

Leave a Reply