Uttrakhand Kainchi Temple: चार धाम की तर्ज पर विकसित आएगा नजर

0
97

नैनीताल: Uttrakhand Kainchi Temple:  देवभूमि कहे जाने वाले उत्तराखंड के कुमाऊं मंडल में बाबा नीम करोली महाराज का कैंची मंदिर भी अब चार धाम की तर्ज पर विकसित नजर आएगा। जिला प्रशासन द्वारा मंदिर के आसपास के क्षेत्र को विकसित करने के लिए बनाए गए प्रोजेक्ट को सीएम पुष्कर सिंह धामी ने पंख लगा दिए है। नैनीताल दौरे पर पहुंचे सीएम ने मंच से कैंची धाम में पार्किंग निर्माण की घोषणा के बाद प्रोजेक्ट के क्रियान्वयन में तेजी आएगी। जल्द प्रोजेक्ट के लिए शासन स्तर से बजट जारी होने के बाद प्रस्तावित कार्यों को शुरू कर दिया जाएगा।

Oxygen Plant and ICU: का सीएम करेंगे लोकार्पण

हर वर्ष 15 जून के दिन मंदिर के स्थापना दिवस पर विशाल भंडारे का आयोजन

बता दें कि नैनीताल से करीब 19 किलोमीटर की दूरी पर स्थित बाबा नीम करोली महाराज द्वारा स्थापित कैंची धाम खासा प्रसिद्ध है। हर वर्ष यहां देश ही नहीं, बल्कि विदेशों से भी बाबा के अनुयाई दर्शन के लिए पहुंचते हैं। हर वर्ष 15 जून के दिन मंदिर के स्थापना दिवस पर विशाल भंडारे का आयोजन किया जाता है। जिसमें पहुंचने वाले श्रद्धालुओं की संख्या लाखों में होती है। मगर ग्रामीण क्षेत्र होने के कारण इस क्षेत्र में श्रद्धालुओं के ठहरने समेत अन्य सुविधाओं का अभाव है। जिसको देखते हुए जिला प्रशासन की ओर से मंदिर के करीब एक किलोमीटर के क्षेत्र मैं सुविधाएं विकसित करने के लिए प्रोजेक्ट तैयार किया गया था।

पूर्व में जब मुख्य सचिव एसएस संधू नैनीताल दौरे पर आए तो उन्होंने भी जिला प्रशासन को निर्देश दिए कि कुमाऊं क्षेत्र स्थित कैंची धाम को चार धाम की तर्ज पर विकसित किया जाए। यहां श्रद्धालुओं के ठहरने के लिए अच्छे होटल, पार्किंग व्यवस्था और मेडिटेशन सेंटर बनाया जाए। वहीं अब नैनीताल दौरे पर पहुँचे सीएम ने कैची में पार्किंग निर्माण की घोषणा करने के बाद प्रोजेक्ट को पंख लगा दिए हैं। उनकी घोषणा के बाद साफ हुआ है कि सरकार की मंशा भी कैंची धाम को कुमाऊं का आकर्षण का केंद्र बनाने की है।

करीब 60 करोड़ का तैयार किया गया है प्रोजेक्ट

जिला प्रशासन द्वारा कैंची मंदिर (Uttrakhand Kainchi Temple) के समीपवर्ती क्षेत्र में सुविधाएं विकसित करने के लिए करीब 60 करोड़ का प्रोजेक्ट तैयार किया गया है। जिसमें श्रद्धालुओं के ठहरने के लिए होटल, रेस्टोरेंट, पार्किंग निर्माण, ध्यान केंद्र समेत अन्य सुविधाएं विकसित की जानी है। सीएम की घोषणा के बाद यकीनन प्रोजेक्ट के क्रियान्वयन में तेजी आएगी। जिलाधिकारी धीराज गर्ब्याल ने बताया कि कैंची धाम में पार्किंग निर्माण को लेकर जिला प्रशासन और जिला विकास प्राधिकरण के अधिकारियों द्वारा सर्वे कर कुछ स्थान चिन्हित किए गए है। जल्द प्रोजेक्ट का बजट जारी होते ही अन्य कार्य भी शुरू कर दिए जाएंगे।

Aasheervaad yaatra: के तहत नैनीताल पहुंचे मुख्यमंत्री धामी

 

Leave a Reply