Sponsored
loading...

पुलिस ने रेस्क्यू कर गंगा में फंसे तीन श्रद्धालुओं को बचाया

0
434

हरिद्वार में करीब डेढ़ घंटे से दिल्ली और हरियाणा के तीन श्रद्धालु शुक्रवार शाम गंगा के दूसरे छोर पर फंसे रहे। घाट पर मौजूद उनके साथियों ने पुलिस को इसकी सूचना दी। जिसके बाद पुलिस ने रेस्क्यू ऑपरेशन किया और तीनों को बोट के सहारे बाहर लाया गया। उत्तरी हरिद्वार में ठोकर नंबर 10 के पास शुक्रवार दोपहर राजस्थान के दो किशोरों की गंगा में डूबने से मौत हो गई। इसी जगह शाम के समय दिल्ली और हरियाणा के कुछ श्रद्धालु स्नान कर रहे थे। इनमें मुबारकपुर, करौली दिल्ली निवासी सतवीर व सुनील और निन्दाणा जिला रोहतक हरियाणा निवासी कपिल तैरते-तैरते गंगा पार पहुंच गए, लेकिन वापस आने की हिम्मत नहीं जुटा पाए।

गंगा के दूसरी तरफ घना जंगल होने के चलते उन्हें घबराहट होने लगी। घाट पर खड़े उनके साथी इशारे से उन्हें बुलाते रहे। मगर जैसे-जैसे अंधेरा बढ़ता गया, वैसे-वैसे श्रद्धालु बदहवास होने लगे। इधर, घाट पर मौजूद उनके साथियों की चिंता भी बढ़ने लगी। पुलिस को सूचना देने पर सप्तऋषि पुलिस चैकी प्रभारी रणवीर सिंह चैहान मौके पर पहुंचे और जल पुलिस के गोताखोरों को बुलाया।

बोट की मदद से गंगा पार पहुंचे गोताखोर

इसके बाद जेल पुलिस के गोताखोर बोट की मदद से गंगा पार पहुंचे और तीनों श्रद्धालुओं को बोट में बैठाकर लाए। तीनों युवकों के सकुशल वापस आने पर उनके साथियों व परिजनों ने राहत की सांस ली और हरिद्वार पुलिस को धन्यवाद दिया। एसपी सिटी ममता वोहरा ने बताया कि तीनों घबराहट के कारण गंगा से वापस नहीं आ पा रहे थे। उन्हें परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया है।


loading...

LEAVE A REPLY