Israel-Hamas : इजरायल- हमास युद्ध में अब तक 8500 से अधिक मौतें

448

गाजा। Israel-Hamas :  आज 21 दिन हमास- इजरायल युद्ध को पूरे हो चुके हैं, बता दें कि अब तक इस युद्ध में दोनों तरफ के कुल 8500 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। हमास के रॉकेट हमले के बाद से इजरायली सेना ने गाजा पट्टी पर अपने हवाई हमले तेज कर दिए हैं। जिसके बदले में इजरायल की ओर से हवाई हमले किए जा रहे हैं।

Parthasarathy Temple : मुख्यमंत्री धामी ने चेन्नई के पौराणिक मंदिर में की पूजा अर्चना 

गाजा में हर तरफ खूनी मंजर देखने को मिल रहा है। कफन में लपेटे बच्चों को लेकर मां-बाप रोते-बिलखते नजर आ रहे हैं। लोगों को खाने-पीने के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ रही है। इजरायली सेना का कहना है कि मिस्र तक पहुंचने वाला प्रोजेक्टाइल लाल समुद्र पर एक हवाई खतरे से जुड़ा हुआ प्रतीत हो रहा है। हालांकि, इसको लेकर विस्तार से कोई बात नहीं की गई है।

गाजा स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, गाजा पर इजरायली बमबारी में तीन सप्ताह से कम समय में लगभग 2,913 बच्चों समेत 7,028 फलस्तीनियों की जान चली गई है। वहीं, हमास के हमले में अब तक 1400 इजरायलियों की मौत हो चुकी है।

हमास प्रतिनिधिमंडल के एक सदस्य के हवाले से जानकारी मिली है कि गाजा में 7 अक्टूबर को फिलिस्तीनी आतंकवादियों द्वारा बंधकों बनाए गए लोगों में से 50 की मौत हो गई।

बीते गुरुवार को भी इजरायल ने गाजा पट्टी पर एयर स्ट्राइक के जरिए 250 से अधिक ठिकानों को निशाना बनाया था। इजरायली सीमा के पास मिस्र के लाल सागर रिसॉर्ट शहर ताबा पर मिसाइल ने एक चिकित्सा सुविधा को निशाना बनाया, जिसमें छह लोगों की मौत हो गई।

अब तक इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने अब तक कई बार जमीनी हमले के संकेत दिए थे, लेकिन अमेरिका के कहने पर जमीनी हमले को कुछ समय के लिए टाल दिया गया है।

इजरायल ने पिछले 24 घंटे में हमास के 5 कमांडर ढेर कर दिए। इजरायली सेना ने इस बात का दावा किया है हमास के तीन सीनियर कमांडर को मार गिराया है। आईडीएफ लड़ाकू विमानों ने दाराज तुफाह बटालियन में हमास के कमांडर को मारने का दावा किया। इस बात का भी दावा किया गया है कि 7 अक्टूबर को इजरायल पर हमले में ये लोग शामिल थे।

गाजा में तत्काल युद्ध विराम के लिए संयुक्त राष्ट्र महासभा में 27 अक्टूबर को वोटिंग होगी। यूएन में इजरायल और फलस्तीन के राजदूतों ने बताया कि 7 अक्टूबर को शुरू हुए इस युद्ध में उनके लोगों को क्या-क्या सहना पड़ा है। यूएन में बैठक के दौरान गाजा में तत्काल युद्ध विराम पर चर्चा हुई।

पेंटागन ने गुरुवार को कहा कि लगभग 900 से अधिक अमेरिकी सैनिक मध्य पूर्व में आ गए हैं। पेंटागन के प्रवक्ता ब्रिगेडियर जनरल पैट्रिक राइडर ने कहा कि इजरायल-हमास युद्ध पर बढ़ते तनाव के बीच इराक में 12 बार और सीरिया में चार बार अमेरिकी और गठबंधन सैनिकों पर हमला किया गया है। इसमें कुल 21 अमेरिकी बलों को मामूली चोटें आई हैं, जिनमें से अधिकांश को सिर पर गंभीर चोटें आई हैं।

ईरान के इस्लामिक रिवोल्यूशनरी गार्ड कॉर्प्स (IRGC) के कमांडर-इन-चीफ हुसैन सलामी ने कहा कि अगर जायोनी वादियों ने गाजा में जमीनी हमला किया, तो उन्हें दफना दिया जाएगा। कमांडर इन-चीफ जनरल हुसैन सलामी ने कहा कि इजरायल बमबारी के अलावा कुछ नहीं कर सकता है। अगर वे जमीन पर आएंगे तो उन्हें निगल लिया जाएगा, गाजा का ड्रैगन उन्हें खा जाएंगे।

इजरायली सेना ने हमास आतंकियों के पास से ईरानी और उत्तर कोरियाई हथियारों की खेप बरामद की है। वहीं, लेबनान के खतरनाक इस्लामिक संगठन हिजबुल्ला ने दावा है कि इजरायल हमास युद्ध में उसकी अहम भूमिका है। पहली बार ईरान समर्थित इस संगठन ने खुलकर यह बात स्वीकार की है।

इजरायल-हमास युद्ध में भारत ने दोनों ही पक्षों को शांति बनाने की अपील की है, ताकि आम लोगों की हो रही मौत रोकी जा सके। संयुक्त राष्ट्र में भारत ने हाल ही में कहा कि वह जंग में मारे जा रहे आम नागरिकों को लेकर चिंतित है। भारत ने सभी पक्षों से शांति बनाने की अपील करते हुए बातचीत शुरू करने का आग्रह किया है।

Ram Mandir : राम मंदिर पर खास योजना बनाने के लिए संघ की बड़ी बैठक

Leave a Reply