Sponsored
loading...

CAA Delhi Protest शाहीन बाग में सड़क पर धरने के कारण हृदयाघात से पीड़ित मरीज की जान पड़ गई खतरे में

0
162

नई दिल्ली। CAA Delhi Protest : शाहीन बाग में सड़क पर धरने के कारण रविवार को हृदयाघात से पीड़ित मरीज की जान खतरे में पड़ गई। जाम के कारण बार-बार फोन करने के बाद भी एंबुलेंस मदनपुर खादर की जेजे कॉलोनी तक नहीं पहुंच सकी। डेढ़ घंटे बाद परिजनों ने किसी तरह से ऑटो का इंतजाम कर पास स्थित होली फैमिली अस्पताल में भर्ती कराया। वहां महिला की स्थिति गंभीर है।

मदनपुर खादर की जेजे कॉलोनी के ए-2 ब्लॉक में रहने वाले देवता प्रसाद मौर्या ने बताया कि शनिवार देर शाम उनकी पत्नी मायावती और उनके बच्चे खाना खाकर सोने के लिए चले गए। थोड़ी देर बाद उनकी पत्नी को सांस लेने में समस्या होने लगी। देवता प्रसाद ने बताया कि उनकी पत्नी को पहले से ही मधुमेह की बीमारी है जिसके चलते अचानक उनके सीने में दर्द होने लगा। इस दौरान कोई भी एंबुलेंस धरना-प्रदर्शन के चलते उनके क्षेत्र में नहीं पहुंच पाई। इस पर स्वजन उन्हें ऑटो में लेकर सफदरजंग अस्पताल के लिए निकले, लेकिन रास्ते में जाम मिलने के कारण उन्हें पास के ही होली फैमिली अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। शाहीन बाग इलाके के आसपास दो बड़े अस्पताल हैं, लेकिन धरने के कारण बंद किए गए मार्ग से लोगों को वहां तक पहुंचने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

शाहीन बाग में सीएए और एनआरसी को लेकर चल रहे प्रदर्शन के चलते लोगों को हो रही समस्याओं की खबरें दैनिक जागरण लगातार प्रमुखता से प्रकाशित कर रहा है। 24 जनवरी को क्षेत्र के दो बड़े अस्पतालों में मरीजों को पहुंचने में हो रही समस्या को लेकर भी खबर प्रकाशित की गई थी। इसके बाद भी पुलिस-प्रशासन इस समस्या का समाधान नहीं करा रहा है। स्थानीय लोगों का कहना है कि यही हालात रहे तो आगे और भी हादसे हो सकते हैं।

आईशी घोष और सीताराम येचुरी शाहीन बाग पहुंचे

जेएनयू छात्र संघ अध्यक्ष आईशी घोष और सीपीआइ नेता सीताराम येचुरी रविवार देर शाम शाहीन बाग पहुंचे। आईशी ने केंद्र और आरएसएस पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि हम गांधी और सुभाष चंद्र बोस के मानने वाले हैं। हम इस सरकार को मनमानी नहीं करने देंगे। धरने पर बैठीं महिलाओं ने दिखा दिया कि हमारी ताकत के आगे सरकारों को झुकना पड़ेगा।

जैनुल अबीदीन ने खत्म किया अनशन

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा ने शाहीन बाग जाकर जैनुल अबीदीन को जूस पिलाकर अनशन खत्म करवाया। जैनुल शाहीन बाग में पिछले 43 दिनों से अनशन पर थे। इस दौरान पूर्व सांसद उदित राज व किरन वालिया भी मौजूद रहीं।

जामिया और शाहीन बाग में प्रदर्शनकारियों ने फहराया तिरंगा

जामिया मिल्लिया इस्लामिया और शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी को लेकर किए जा रहे विरोध प्रदर्शनों के दौरान तिरंगा फहराकर गणतंत्र दिवस मनाया गया। इस दौरान शाहीन बाग धरने का प्रतीक बन चुकीं तीन दादी और रोहित वेमुला की मां राधिका वेमुला ने 40 फुट ऊंचा तिरंगा फहराया। झंडारोहण के बाद सभी ने एक साथ राष्ट्रगान गाया। इसके बाद राधिका वेमुला ने लोगों को संबोधित किया। वहीं जामिया में झंडारोहण के बाद स्कूली बच्चों ने देश भक्ति गीत और नाटकों का मंचन किया।

बता दें कि शाहीन बाग में प्रदर्शनकारी पिछले चालीस से अधिक दिनों से डटे हुए हैं। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने कालिंदी कुंज मार्ग को पूरी तरह से बंद कर दिया है जिससे स्थानीय लोगों को परेशानी हो रही है। रविवार को गणतंत्र दिवस के मौके पर दोनों ही प्रदर्शनस्थलों पर तिरंगा फहराकर राष्ट्रगान गाया गया। इसके बाद देशभक्ति गीतों के जरिए लोगों का उत्साह बढ़ाया गया। प्रदर्शनकारियों ने ई-रिक्शा को अलग-अलग ढंग से सजाया, जहां लोग सेल्फी लेते नजर आए।


loading...

LEAVE A REPLY