कर्नाटक सरकार का ऐलान- 17 नवंबर से खुलेंगे डिग्री, डिप्‍लोमा, इंजिनियरिंग कॉलेज

0
194

बेंगलुरु: कर्नाटक सरकार ने 17 नवंबर से सभी डिग्री, डिप्‍लोमा और इंजियनिरिंग कॉलेजों को खोलने का फैसला किया है। राज्‍य में ये शिक्षण संस्‍थान कोरोना महामारी की वजह से बंद चल रहे थे। यह जानकारी उप मुख्‍यमंत्री सीएन अश्‍वथ नारायण ने दी। कर्नाटक के अलावा और राज्‍यों ने भी अपने उच्‍च शिक्षण संस्‍थानों को फिर से खोलने पर विचार करना शुरू कर दिया है।

पाकिस्तानी सेना की बर्बर कार्रवाई के विरोध में कई शहरों में लोगों ने किया प्रदर्शन

कर्नाटक के उप मुख्‍यमंत्री ने शुक्रवार को कहा

‘मुख्‍यमंत्री की अध्‍यक्षता में हुई बैठक में 17 नवंबर से डिग्री कॉलेजों को खोलने का फैसला लिया गया। इंजिनियरिंग, डिप्‍लोमा और डिग्री कॉलेज सभी स्‍टार्ट हो जाएंगे।’ बैठक के बाद मीडिया से बात करते हुए अश्‍वथ नारायण ने बताया कि छात्रों के पास विकल्‍प होगा कि वे चाहे तो कॉलेज आ सकते हैं या ऑनलाइन क्‍लासेज अटेंड कर सकते हैं।

हालांकि बच्‍चों के डॉक्‍टरों के एक संगठन इंडियन अकैडमी ऑफ पीडियॉट्रिक्‍स ने मुख्‍यमंत्री बीएस येदियुरप्‍पा को चिट्ठी लिखकर कहा है कि अभी स्‍कूल और कॉलेज खोलने का सही समय नहीं है। अमेरिका और कोरिया ने ऐसा ही जोखिम उठाया था और वहा कोरोना संक्रमण बढ़ गया था।

2 नवंबर से खुलेगा जेएनयू

नवंबर में और भी विश्‍वविद्यालय क्रमवार तरीके से अपने कैंपस खोलने पर विचार कर रहे हैं। दिल्‍ली के जवाहर लाल नेहरू विश्‍वविद्यालय (जेएनयू) ने ऐलान किया है कि 2 नवंबर से कई फेजों में यूनिवर्सिटी खोलने की शुरुआत की जाएगी। सबसे पहले डे स्‍कॉलर और फाइनल ईयर पीएचडी के स्‍टूडेंट्स को आने को कहा जाएगा। इससे उन्‍हें प्रयोगशालओं के इस्‍तेमाल और थीसिस जमा करने की सुविधा मिल जाएगी।

असम में भी 2 नवंबर से खुलेंगे कॉलेज

असम के शिक्षा मंत्री ने भी ऐलान किया है कि 2 नवंबर से राज्‍य में कॉलेज खुल जाएंगे। लेकिन फिलहाल उन्‍हीं पोस्‍ट ग्रैजुएट स्‍टूडेंट्स को कॉलेज आने की अनुमति होगी जिन्‍हें रिसर्च या लैब वर्क की जरूरत होगी। प्रफेशनल और टेक्निकल कोर्सों के छात्रों को कॉजेल आने की मंजूरी दे दी गई है।

दिवाली बाद उत्‍तराखंड में डिग्री कॉलेज खुलने के संकेत

उत्‍तराखंड के उच्‍च‍ शिक्षा मंत्री धनसिंह रावत ने उम्‍मीद जताई है कि दिवाली के बाद राज्‍य में डिग्री कॉलेज खोले जा सकते हैं। धनसिंह रावत का कहना था कि सभी जिम्‍मेदार लोगों से विचार-विमर्श के बाद फैसला लिया गया है कि इस बारे में हम मुख्‍यत: केंद्र सरकार की गाइडलाइंस का इंतजार कर रहे हैं। वैसे राज्‍य पहले ही 2 नवंबर से स्‍कूल खोलने का ऐलान कर चुका है।

देश में 7 लाख से कम सक्रिय मामले बचे, 69 लाख से अधिक हुए ठीक

LEAVE A REPLY