Maharashtra Politics: सीएम बनते ही शिंदे का बड़ा दावा

मुंबई। Maharashtra Politics: महाराष्‍ट्र का मुख्‍यमंत्री बनते ही एकनाथ शिंदे पूरे एक्‍शन में नजर आ रहे हैं। एकनाथ शिंदे ने शुक्रवार को कहा कि बाकी विधायक शनिवार को मुंबई आ जाएंगे। राज्यपाल ने तीन चार जुलाई को विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया है। उन्‍होंने गुरुवार को कहा कि हमारे पास 170 विधायक हैं और यह संख्‍या तेजी से बढ़ रही है। हमारे पास विधानसभा में पूर्ण बहुमत है। मैं मुंबई जा रहा हूं। मैंने मुंबई में बारिश की स्थिति के बारे में मुंबई निगम आयुक्त से बात की है…

Blast in Patna Court: पटना सिविल कोर्ट में बम ब्‍लास्‍ट से मची अफरातफरी

जुलाई को स्पीकर के चुनाव के लिए नामांकन दाखिल किया जाएगा

शिंदे ने गोवा में कहा कि सरकार किसानों (Maharashtra Politics) के जीवन में बदलाव लाने के लिए प्रतिबद्ध है। हम राज्य में विकास कार्यों को आगे बढ़ाएंगे। महाराष्ट्र में नवगठित एकनाथ शिंदे की सरकार को राज्य विधानसभा में बहुमत साबित करने के लिए 4 जुलाई को विश्वास मत का सामना करना पड़ेगा। महाराष्ट्र विधानसभा का विशेष सत्र 3 और 4 जुलाई को होगा। 2 जुलाई को स्पीकर के चुनाव के लिए नामांकन दाखिल किया जाएगा और 3 जुलाई को स्पीकर का चुनाव होगा। इसके अलावा 4 जुलाई को विश्वास मत लिया जाएगा।

एकनाथ शिंदे ने गुरुवार शाम को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली

पिछले साल कांग्रेस विधायक नाना पटोले के इस्तीफे के बाद अध्यक्ष का पद खाली है। एकनाथ शिंदे ने गुरुवार शाम को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली। उल्‍लेखनीय है कि शिवसेना के 40 बागी विधायकों के समर्थन का दावा करने वाले एकनाथ शिंदे ने उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली पार्टी के खिलाफ विद्रोह का नेतृत्व किया, जिससे 31 महीने पुरानी महा विकास अघाड़ी (एमवीए) सरकार गिर गई।

फडणवीस ने डिप्टी सीएम के तौर पर शपथ ली

मुख्यमंत्री पद से ठाकरे के इस्तीफे के एक दिन बाद, शिंदे और भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस ने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की और राज्य में सरकार बनाने का दावा पेश किया, जो एक हफ्ते से अधिक समय से राजनीतिक अस्थिरता की चपेट में था। 2014-19 तक महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री रहे फडणवीस ने गुरुवार को मुंबई में एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में घोषणा की कि वह सरकार का हिस्सा नहीं होंगे। हालांकि बाद में भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व के निर्देश पर फडणवीस ने डिप्टी सीएम के तौर पर शपथ ली।

Monsoon in Uttarakhand: जून में कम बरसे मेघ, जुलाई में पड़ेगी कितनी बौछार, पढ़ें

Leave a Reply