कोविड-19 महामारी के दौरान कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए उत्तरी डीएमसी ने उठाए व्यापक कदम

कर्मचारियों को पीपीई किट उपलब्ध कराने के लिए प्रत्येक कंटेनमेंट क्षेत्र के बाहर बनाए गए हैं डॉकिंग स्टेशन

0
475

कोविड-19 महामारी के इस संकटपूर्ण दौर में उत्तरी दिल्ली नगर निगम (उत्तरी डीएमसी) ने अपने कर्मचारियों की पूर्ण सुरक्षा सुनिश्चित करने व्यापक कदम उठाए हैं। ये कदम पूरे शहर में बनाए गए कंटेनमेंट(रोकथाम) क्षेत्रों में सेवाएं देने के मद्देनजर उठाए गए हैं।

उत्तरी डीएमसी ने हर कंटेनमेंट क्षेत्र के बाहर डॉकिंग स्टेशन की स्थापना की गई है। स्वच्छता, इंजीनियरिंग, सार्वजनिक स्वास्थ्य या किसी भी विभाग हर कर्मचारी को इन डॉकिंग स्टेशनों से अपनी ड्यूटी शुरू करनी होती है। वे यहां रिपोर्ट करते हैं और उन्हें जरूरी पीपीई किट उपलब्ध कराई जाती हैं।

कर्मचारियों को पूर्ण रूप से स्वच्छ (सैनिटाइज) किया जाता है

सुनिश्चित किया गया है कि प्रत्येक कर्मचारी पूरी सुरक्षा के साथ कंटेनमेंट क्षेत्रों में प्रवेश करे। अपना कार्य पूरा करने के बाद उन्हें फिर से डॉकिंग स्टेशन पर आना होता है, जहां सुरक्षात्मक गियर को सावधानी से निपटान किया जाता है और घर लौटने से पहले कर्मचारियों को पूर्ण रूप से स्वच्छ (सैनिटाइज) किया जाता है, जिससे उनके माध्यम से संक्रमण घर तक न पहुंच जाए।

कर्मचारियों को ड्यूटी पूरी होने के बाद अलग केन्द्र पर खाना उपलब्ध कराया जाता है, क्योंकि कंटेनमेंट क्षेत्र के भीतर खाने की अनुमति नहीं है। इन केन्द्रों पर सामाजिक सुरक्षा के सभी नियमों का ठीक से पालन किया जाता है। इन कर्मचारियों को सुरक्षात्मक गियर पहनने और पूरी सुरक्षा के साथ निपटान के बारे में उचित प्रशिक्षण भी उपलब्ध कराया जाता है।

अन्य समाचार:-कुमाऊं में एक सप्ताह में सात लोगों ने मौत को लगाया गले

LEAVE A REPLY