PM Modi in Kashi : प्रधानमंत्री मोदी बोले- देश को नई दिशा दे रहा है बनारस

0
1645

नई दिल्ली। PM Modi in Kashi : काशी दौरे के दूसरे दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वर्वेद महामंदिर में विहंगम योग के 98वें वार्षिकोत्सव को संबोधित करते हुए कहा कि इच्‍छा शक्ति हो तो परिवर्तन संभव है। बनारस के विकास का सकारात्मक असर यहां आने वाले पर्यटकों पर भी पड़ रहा है। 2014-15 के मुकाबले में 2019-20 में यहां आने वाले पर्यटकों की संख्या दोगुनी हो गई है। 2019-20 कोरोना कालखंड में अकेले बाबतपुर एयरपोर्ट से ही 30 लाख से ज्यादा लोगों का आना-जाना हुआ है।बनारस जैसे शहरों ने मुश्किल से मुश्किल समय में भी भारत की पहचान के, कला के, उद्यमिता के बीजों को सहेजकर रखा है। आज जब हम बनारस के विकास की बात करते हैं, तो इससे पूरे भारत के विकास का रोडमैप भी बनता है।

Doon university initiation ceremony : कल, CM धामी करेंगे शिरकत

PM Modi in Kashi : बनारस देश को नई दिशा दे रहा है

रिंग रोड का काम भी काशी ने रिकार्ड समय पर पूरा किया है। बनारस आने वाली कई सड़कें भी अब चौड़ी है गई हैं। जो लोग सड़क के रास्ते बनारस आते हैं, वो सुविधा से कितना फर्क पड़ा है, इसे अच्छे से समझते हैं। मैं जब काशी आता हूं या दिल्ली में भी रहता हूं तो प्रयास रहता है कि बनारस में हो रहे विकास कार्यों को गति देता रहूं। कल रात 12 बजे के बाद जैसे ही मुझे अवसर मिला, मैं फिर निकल पड़ा था अपनी काशी में जो काम चल रहे हैं, जो काम किया गया है, उनको देखने के लिए। गौदोलिया में जो सुंदरीकरण का काम हुआ है, देखने योग्य बना है। मैंने मडुवाडीह में बनारस रेलवे स्टेशन भी देखा। इस स्टेशन का भी अब कायाकल्प हो चुका है। पुरातन को समेटे हुए नवीनता को धारण करना, बनारस देश को नई दिशा दे रहा है।

भारत ही है जिसकी आजादी के सबसे बड़े नायक को दुनिया महात्मा बुलाती है

हमारा देश इतना अद्भुत है कि, यहां जब भी समय विपरीत होता है, कोई न कोई संत-विभूति, समय की धारा को मोड़ने के लिए अवतरित हो जाती है। ये भारत ही है जिसकी आजादी के सबसे बड़े नायक को दुनिया महात्मा बुलाती है। आज देश आजादी की लड़ाई में अपने गुरुओं, संत और तपस्वियों के योगदान को स्मरण कर रहा है, नई पीढ़ी को उनके योगदान से परिचित करा रहा है। मुझे खुशी है कि विहंगम योग संस्थान भी इसमें सक्रिय भूमिका निभा रहा है।

कल काशी ने भव्य विश्वनाथ धाम महादेव के चरणों में अर्पित किया

पीएम मोदी ने कहा कि कल काशी ने भव्य विश्वनाथ धाम महादेव के चरणों में अर्पित किया और आज विहंगम योग संस्थान का ये अद्भुत आयोजन हो रहा है। इस दैवीय भूमि पर ईश्वर अपनी अनेक इच्छाओं की पूर्ति के लिए संतों को ही निमित्त बनाता है। सद्गुरु सदाफलदेव जी ने समाज के जागरण के लिए विहंगम योग को जन-जन तक पहुंचाने के लिए यज्ञ किया था। आज वो संकल्प बीज हमारे सामने इतने विशाल वट वृक्ष के रूप में खड़ा है।

गीता जयंती पर बोले पीएम मोदी

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि आज गीता जयंती का पुण्य अवसर है। आज के ही दिन कुरुक्षेत्र की युद्ध की भूमि में जब सेनाएं आमने सामने थीं, मानवता को योग, आध्यात्म और परमार्थ का परम ज्ञान मिला था।

सदगुरु सदाफलदेव की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किए

बता दें कि पीएम मोदी ने स्वर्वेद महामंदिर पहुंचने के बाद सदगुरु सदाफलदेव की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किए। इस दौरान उनके साथ राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहे। सदगुरु सदाफलदेव विहंगम योग संस्थान के 98वें वर्षगांठ समारोह में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि योग को वैश्विक मान्यता मोदी जी के कारण मिली है। वैश्विक मंच पर भारत की परंपरा, संस्कृति और सभ्यता को आज जो मान्यता प्राप्त हुई है उस पर हर भारतवासी गौरवान्वित है।

पीएम मोदी का काशी दौरा (PM Modi in Kashi)

बता दें कि पीएम मोदी इस समय अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दो दिवसीय दौरे पर हैं, जहां उन्होंने सोमवार को लगभग 339 करोड़ रुपये की लागत से नवनिर्मित काशी विश्वनाथ धाम के पहले चरण का उद्घाटन किया। वहीं आज उन्होंने भाजपा शासित 12 राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की। उन्होंने वाराणसी के बीएलडब्ल्यू गेस्ट हाउस में 2022 के राज्य विधानसभा चुनावों पर चर्चा करने के लिए एक उच्च स्तरीय बैठक भी की। बैठक में भाग लेने वालों में भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, राज्य प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान और पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह शामिल थे।

मुख्यमंत्रियों के सम्मेलन में भी लेंगे हिस्सा

प्रधानमंत्री मोदी बिहार और नागालैंड के डिप्टी सीएम के साथ असम, अरुणाचल प्रदेश, गोवा, गुजरात, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, मणिपुर, त्रिपुरा, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के मुख्यमंत्रियों के एक सम्मेलन में भी भाग लेंगे।रामलला के दर्शन के लिए भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों का 15 दिसंबर को अयोध्या जाने का कार्यक्रम है।

Arvind Kejriwal reached Kashipur : बोले, सरकार बनी तो महिला को देगे एक हजार रुपये

Leave a Reply