कानपुर में बीजेपी के खिलाफ चुनाव लड़ेंगी राष्ट्रपति की बहू

0
640

कानपुर की झींझक नगर पालिका के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के परिवार से दो लोगों की दावेदारी को दरकिनार कर बीजेपी ने तीसरे को टिकट दे दिया। इस पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की बहू ने निर्दलीय चुनाव लड़ने की घोषणा की है। झींझक नगरपालिका चुनाव के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के भतीजे पंकज कोविंद की पत्नी दीपा ने निर्दलीय मैदान में उतरने का फैसला किया है। दीपा के चुनाव मैदान में उतरने से बीजेपा का सारा समीकरण बिगड़ता हुआ नजर आ रहा है। ऐसे में बीजेपी उन्हें मानने में जुटी है।

सरोजनी देवी कोरी को उम्मीदवार घोषित कर दिया

दीपा पहले बीजेपी से टिकट मांग रही थीं, पार्टी के उम्मीदवार न बनाए जाने की वजह से निर्दलीय चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी है। बीजेपी उन्हें मनाने की कोशिश कर रही है। कानपुर की झींझक नगरपालिका सीट अनुसूचित महिला के लिए आरक्षित है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद झींझक के ही रहने वाले हैं। उनके परिवार के दो सदस्यों ने बीजेपी से टिकट की दावेदारी की थी। लेकिन बीजेपी ने राष्ट्रपति कोविंद के परिवार के सदस्यों की दावेदारी को नजरअंदाज करते हुए सरोजनी देवी कोरी को उम्मीदवार घोषित कर दिया।

बतौर निर्दलीय उम्मीदवार उतरने का फैसला किया

पार्टी के इस फैसले के बाद राष्ट्रपति के भतीजे पंकज कोविंद की पत्नी दीपा ने बतौर निर्दलीय उम्मीदवार चुनाव में उतरने का फैसला किया। सूत्रों के मुताबिक दीपा 09 नवंबर को नामांकन दाखिल करेंगी। पंकज का कहना है कि वो काफी पहले से चुनाव की तैयारी कर रहे थे। झींझक के लोगों के कहने के बाद ही दीपा ने चुनाव में बतौर निर्दलीय उम्मीदवार उतरने का फैसला किया है।

LEAVE A REPLY