Budget Session 2023 : सत्र की कार्यवाही के दौरान खरगे के बयान पर हंगामा

210

नई दिल्ली। Budget Session 2023  बुधवार को राज्यसभा में बजट सत्र की कार्यवाही के दौरान कांग्रेस और बीजेपी सांसदों में जमकर हंगामा हुआ। साथ ही कांग्रेस अध्यक्ष और राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खरगे ने गौतम अदाणी के मुद्दे पर केंद्र सरकार को घेरा। वहीं बीजेपी सांसदों ने खरगे के बयान पर पलटवार किया।

Char Dham Yatra 2023 : चारधाम यात्रा के लिए पंजीकरण 20 फरवरी से शुरू

कांग्रेस अध्यक्ष खरगे का अदाणी मुद्दे पर हमलावर

कांग्रेस अध्यक्ष खरगे ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि एक व्यक्ति जिसकी संपत्ति ढाई साल में 13 गुना बढ़ गई। 2014 में 50,000 करोड़ की थी, वह 2019 में एक लाख करोड़ की हो गई। अचानक ऐसा क्या जादू हुआ कि संपत्ति 12 लाख करोड़ बढ़ गई। हिंडनबर्ग की रिपोर्ट को भी बीजेपी नहीं मान रही है। इसकी जांच जेपीसी से कराई जानी चाहि।

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल का पलटवार

खरगे के आरोपों को बेबुनियाद ठहराते हुए पर बीजेपी ने पलटवार किया। केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा, “वे विदेश रिपोर्टों (हिंडनबर्ग रिपोर्ट) पर बातें कर रहे हैं, यह तो कांग्रेस का तारीका है। मैं स्पष्ट कहता हूं कि इनके खुद के नेता जिनके कहने के बगैर ये कुछ नहीं करते हैं, उनकी संपत्ति ही देखें कि 2014 में इनके नेता की कितनी संपत्ति थी और आज कितनी है।”

Budget Session 2023 update

पीयूष गोयल ने कहा कि जेपीसी तब बैठती है जब आरोप सिद्ध हो जाए। जब सरकार पर आरोप लगता है तब संयुक्त संसदीय समिति बिठाई जाती है किसी निजी व्यक्ति के मुद्दे पर नहीं।

अदाणी मुद्दे पर चर्चा के लिए AAP सांसद संजय सिंह ने राज्यसभा में नोटिस दिया।

पीएम मोदी आज लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा का जवाब देंगे।

बीआरएस सांसद केशव राव ने अडानी एंटरप्राइजेज और अडानी समूह की अन्य कंपनियों पर हिंडनबर्ग रिपोर्ट पर चर्चा की मांग करते हुए नोटिस दिया।

कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने भारत-चीन सीमा मुद्दे पर विस्तृत चर्चा के लिए लोकसभा में स्थगन नोटिस दिया।
देश में हिंदू मुस्लिम हो रहा

खरगे ने कहा कि कई सासंद-मंत्री सिर्फ हिंदू-मुस्लिम करते हैं, क्या बात करने के लिए कोई और मुद्दा नहीं है। दूसरी तरफ कोई अनुसूचित जाति के लोग मंदिर जाते हैं तो उन्हें मारते हैं, उनकी सुनवाई नहीं होती है आगे खरगे ने कहा “अनुसूचित जाति को तो हम हिंदू समझते हैं ना, तब उन्हें मंदिर जाने से क्यों रोकते हैं अगर समझते हैं तो उन्हें बराबरी का स्थान क्यों नहीं देते। कई मंत्री दिखावे के लिए उनके घर जाकर खाना खाते हैं और तस्वीर खींचवा कर बताते हैं कि हमने उनके घर खाना खाया है।”

Turkey Earthquake : तुर्किये और सीरिया में आए भूकंप को लेकर भावुक हुए पीएम

Leave a Reply