भय और अराजकता के साये में जीने को मजबूर है प्रदेश की जनता: अखिलेश

0
143

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश में कई विधायकों को धमकी दिए जाने के मामले को लेकर कहा कि प्रदेश की जनता भय और अराजकता के साये में जीने को मजबूर है। समाज का कोई वर्ग सुरक्षित नही है। विधायकों को खुलेआम धमकी भरे संदेश देकर फिरौती मांगी जा रही है। पूर्व डीजीपी के घर डकैती जैसी घटना यह बताने के लिए पर्याप्त है कि उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था ध्वस्त हो चुकी है। सरकार हर मामले विफल साबित हो रही है।

सरकार हर मसले पर विफल

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि सीतापुर के अतिरिक्त रायबरेली में भी कुत्तों का आतंक बढ़ गया है। कई मासूमों की मौत के बाद भी शासन-प्रशासन का रवैया संवेदना शून्य है। अखिलेश ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी परिक्षेत्र ग्रेटर नोएडा में लूटपाट, एटा में पुलिस टीम पर हमला, फतेहपुर में खनन माफिया के उपद्रव जैसी घटनायें पूरे प्रदेश में आम हो गई है।

अखिलेश ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी ने सत्ता संभालते ही प्रदेश से अपराधियों के पलायन की बात कही थी, लेकिन इसमें अपनी असफलता छिपाने के लिए फर्जी एनकाउंटर का सहारा लिया जा रहा है। भाजपा ने जनता को गुमराह कर सत्ता हासिल की है। अखिलेश ने कहा कि भाजपा सरकार के रहते प्रदेश की कानून व्यवस्था दुरुस्त होने की कतई उम्मीद नहीं की जा सकती है। जिस जनता ने अच्छे दिनों के वादे पर वोट से सत्ता बदली थी, वही अब वोट से फिर बदलाव करने का मन बना चुकी है।

LEAVE A REPLY